Monday , 22 April 2019

हासिल होगा मुकाम इस चुनाव में युवाओं के उम्मीदों को मिलेगा ठौर,

उच्च शिक्षा के क्षेत्र में पिछड़ापन, स्वास्थ्य की बदहाली, खेल के लिए संसाधनों का अभाव, कृषि संसाधनों की सुरक्षा का प्रबंधन, बढ़ता प्रदूषण, जलसंकट, मनोरंजन की व्यवस्था, ट्रैफिक की समस्याएं आदि मुद्दों पर हम-आप चर्चा करते हैं। इनसे कहीं न कहीं किसी न किसी तरह रोजाना रूबरू होते हैं, ये मुद्दे युवाओं से ही तो जुड़े हैं। समय से इनका निष्पादन नहीं होने से यह नासूर बन जाता है और उम्र के आखिरी पड़ाव तक परेशानी सबब बना रहता है।

सवाल यह है कि ऐसा कब तक चलेगा? देश-दुनिया गवाह है,  जब भी युवाओं ने कुछ ठानी है और सही नेतृत्व मिला तो परिणाम भी सकारात्मक ही रहा है। दैनिक जागरण का मकसद है कि युवाओं के मुद्दे को सही नेतृत्व मिले और समस्याओं का निदान हो। निदान मतलब, पुरानी परेशानी खत्म और नई की चुनौती सामने हो। ऐसा इसलिए कि युवा सिर्फ समस्याओं की पहचान नहीं करेंगे वे निदान का मार्ग भी अपनी नई सोच से प्रशस्त करेंगे।

अभी सरकारें पॉकेटमारी से निजात नहीं दिला पाती हैं तो साइबर क्राइम से निपटने के लिए युवाओं की फौज कैसे तैयार होगा। सो, पुरानी समस्याओं के निदान के साथ नई की चुनौती को भी हमें देखना है और रास्ते तलाशने हैं। इस दौरान युवा सरकार जैसी उम्मीद कर रहे हैं उनको भी एक ठिकाना मिलेगा। युवा वर्ग आज देश का ही नहीं चुनावी मैदान में उतरने वाले प्रत्याशियों के भी तारणहार है। ऐसी स्थिति में युवाओं की समस्याओं को खत्म किए बगैर आगे की बात करना बेमानी है।

पहली बार मतदान करनेवाले मतदाता सबसे महत्वपूर्ण हैं। लोकसभा चुनाव हमें ऐसा मौका देता है जहां हम अपने मुद्दे निदान के उद्देश्य से नेताओं को सौंपते हैं। आमतौर पर नेता युवाओं के मुद्दे देर-सवेर भूल जाते हैं। दैनिक जागरण की कोशिश है कि अब मुद्दे गुम न हों और युवाओं की समस्याओं का समाधान समय पर निकले। इस चुनाव में पहली बार मतदान करनेवाले युवाओं की संख्या 2,20,753 है। इनमें से 1,33,668 पुरुष हैं जबकि 87,056 महिलाएं। युवा मतदाताओं में 29 ट्रांसजेंडर भी हैं।

इन सभी की नजर में महत्वपूर्ण मुद्दे अलग-अलग हो सकते हैं लेकिन पहला वोट और पहला मुद्दा महत्वपूर्ण होगा। किस मुद्दे के समाधान के लिए युवा अपना पहला वोट देंगे, यह देखना-समझना भी महत्वपूर्ण होगा। लोगों के समक्ष अपनी बात रखने के लिए दैनिक जागरण युवाओं को मंच उपलब्ध करा रहा है। इसी कड़ी में हमारा यह शृंखलाबद्ध अभियान है पहला मुद्दा, पहला वोट।

18 वर्ष और इससे अधिक के मतदाता अपना पहला वोट जब डालने जाएं तो उनके पास एक मुद्दा हो और वे अपने क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करनेवाले से सीधे पूछ सकें कि आखिर इस मुद्दे का निदान आप कैसे करेंगे? युवाओं के मुद्दों का संकलन दैनिक जागरण भी करेगा और तमाम प्रमुख नेताओं व पार्टियों से सुनिश्चित कराएगा कि युवाओं के मुद्दों को निदान तक ले चला जाए। हमारी कोशिश होगी कि समस्याओं के निराकरण का मार्ग प्रस्तुत हो ..ताकि देश पीछे की बातें छोड़कर आगे बढ़े।

loading...
Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com