Tuesday , 29 September 2020

सेक्स रैकेट हुआ टेक्निकल…….

Loading...

dehradun-manthan-1एजेंसी/ उत्तराखंड की राजधानी देहरादून के पटेलनगर से पकड़ा गया सेक्स रैकेट सोशल मीडिया के माध्यम से चलता था। व्हाट्सएप के माध्यम से ग्राहकों को लड़कियों की तस्वीर भेजकर सौदा तय होता था। पुलिस ने भी रैकेट को पकड़ने के लिए इसी माध्यम का सहारा लिया। पुलिस के हाथ लगा रैकेट सरगना पहले शादी आदि में डांसर पहुंचाता था और डीजे का काम करता था। पकड़ी गई युवतियों में से तीन पंजाब, एक दिल्ली व एक उत्तरकाशी की है। मामले में पुलिस ने पांच युवतियों समेत सात लोगों पर अनैतिक देह व्यापार अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया है। आज इन्हें कोर्ट में पेश किया जाएगा।

देहरादून के कारगी चौक के समीप स्थित स्वास्तिक प्लाजा से 21 मई की देर रात सेक्स रैकेट पकड़ा गया था। फ्लैट के कमरे में एक युवक व युवती आपत्तिजनक हालत में मिले, जबकि मौके से दो मोबाइल सेट भी बरामद किए गए। पुलिस ने जब मोबाइल चेक किए तो सेक्स रैकेट के धंधे के तरीकों समेत कई चेहरे बेनकाब हुए जो जिस्मफरोशी के धंधे में उतरी युवतियों के साथ रंगरेलियां मना चुके थे। हालांकि इसे लेकर पुलिस अभी कुछ बोलने को तैयार नहीं है। धंधे के तरीकों की बात करें तो रैकेट का सरगना गोविंद पुत्र सोबत सिंह निवासी जामणी पट्टी तहसील कंडीसौढ़ पटवारी क्षेत्र उनियाल गांव जिला टिहरी व्हाट्सएप पर ग्राहकों को युवतियों की तस्वीरें भेजता था। चैटिंग के दौरान ही रेट तय होता था।

इसके बाद ग्राहक की मर्जी होती थी, वह उनके ठिकाने पर आएगा या युवतियों को अपनी जगह लेकर जाएगा। सबके अलग-अलग रेट निर्धारित थे। जब ग्राहक युवतियों को कहीं बाहर ले जाने की पेशकश करता था तो श्याम लाल पुत्र धर्मपाल निवासी गडोली धरासू उत्तरकाशी युवतियों को ठिकाने पर छोडऩे जाता था। श्यामलाल पर नए ग्राहकों की तलाश की भी जिम्मेदारी थी। पुलिस ने मामले में गोविंद, श्याम लाल व पांच युवतियों समेत सात लोगों पर मुकदमा दर्ज किया है।

Loading...

पटेलनगर पुलिस को जब सेक्स रैकेट चलने की सूचना मिली तो अपने एक सिपाही को ग्राहक बनाकर गोविंद के पास भेजा। गोविंद ने सिपाही के मोबाइल पर कई खूबसूरत युवतियों की फोटो भेजी। सिपाही के मोबाइल में जिस्म का सौदा तय करने की बातचीत रेकार्ड हो जाने के बाद शनिवार को इंस्पेक्टर बीबीडी जुयाल ने एसएसपी को मामले से अवगत कराया। एसएसपी ने एएसपी तृप्ति भट्ट को कार्रवाई का निर्देश दिए। इसके बाद एसएसआइ अरुण कुमार सैनी के नेतृत्व में दो महिला कांस्टेबल नीता गैरोला व नीता कुमारी, कांस्टेबल नरेंद्र कुमार, राजेश कुमार, राजीव कुमार व संदीप कुमार की टीम ने शनिवार रात फ्लैट पर छापा मारा।

बेहद रोमांचक और आश्चर्यजनक जानकारियों के लिए नीचे फोटो पर क्लिक करें

loading...
Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com