Sunday , 25 August 2019

शिवराज सिंह चौहान धरने पर बैठे, दिव्यांग माता-पिता के साथ, मुख्यमंत्री कमलनाथ को चेतावनी…

Loading...

पुलिस कस्टडी में युवक शिवम मिश्रा की मौत के मामले में शिवराज सिंह चौहान ने आज पीड़ित परिवार के साथ भारत माता चौराहे पर धरना दिया।

Loading...

इस दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री कमलनाथ को चेतावनी दी कि अगर हफ्ते भर के भीतर पीड़ित परिवार की सभी मांगें नहीं मानी गईं तो जनता सड़कों पर उतर आएगी। शिवराज सिंह चौहान इस मामले की सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं। परिवार भी लगातार दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई की मांग कर रहा है। शिवम के फूफा नरेंद्र शर्मा का कहना है कि शिवम की मौत के मामले में न्यायिक जांच शुरू कर दी गई है। लेकिन इससे परिजन संतुष्ट नहीं है। नरेंद्र शर्मा का कहना है कि न्यायिक जांच हाईकोर्ट के रिटायर्ड जस्टिस से कराई जाना चाहिए। सरकार को चाहिए कि इस मामले में दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ हत्या, लूट का केस दर्ज किया जाए। लेकिन पुलिस ने अब तक टीआई समेत पांच पुलिसकर्मियों को सस्पेंड किया है। परिजनों ने मांग की है कि, शिवम परिवार का इकलौता बेटा था। दिव्यांग माता-पिता का सहारा था। शिवम की बहन को सरकारी नौकरी दी जाए। साथ ही घटना के लिए जिम्मेदार वरिष्ठ अफसरों को उस क्षेत्र से हटाया जाए।

पूरा मामला जानिए क्या है-  मंगलवार देर रात बैरागढ़ पुलिस ने शिवम मिश्रा नाम के युवक की पिटाई की थी। जिसके बाद उसकी मौत हो गई थी। अपनी कार से बैरागढ़ ढाबे पर खाना खाना जा रहा था। तभी लालघाटी के पास उसकी तेज रफ्तार XUV-500 कार बीआरटीएस कॉरिडोर से टकरा गई। इसके बाद पुलिस कार में बैठे शिवम और उसके दोस्त गोविंद को बैरागढ़ थाने ले गई और वहां दोनों की जमकर पिटाई कर दी। तबीयत बिगड़ने पर पुलिस उसे बैरागढ़ सिविल अस्पताल लेकर आई, लेकिन वहां जांच के बाद डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इसके बाद से ही परिजन दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।

बेहद रोमांचक और आश्चर्यजनक जानकारियों के लिए नीचे फोटो पर क्लिक करें

loading...
Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com