Monday , 28 September 2020

‘वह आते थे और नहाने चले जाते थे’ इस तरह पत्नी ने पकड़ा पूरा खेल

Loading...

cheating (1)बंगलुरु। पति का देर रात को घर लौटना और आते ही नहाने चले जाना एक पत्‍नी के मन में शक का बीज डाल गया था। इतना ही नहीं नहाने के बाद घंटों पूजा करना भी कुछ पति की बेवफाई की अलग कहानी बयां कर रहा था। य‍ह सब रोज का सिलसिला बन गया था।

पति की बेवफाई का मामला नया नहीं

बंगलुरु की 27 साल की सुमन को यह सब अटपटा लगता था लेकिन प्रेग्‍नेंट होने की वजह से उसने इस पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया। लेकिन व्‍हाट्सएप पर आए एक मैसेज ने पति की खोल दी। इस मैसेज ने पत्‍नी के होश उड़ा दिए। सुमन को पता चला कि उसका पति एस्कॉर्ट्स और दलालों के संपर्क में है। इतना ही नहीं, उसने अपने पति को पांच बार रंगे हाथों भी पकड़ लिया।

पति का नहाना संदेह के घेरे में

बंगलुरु के एक अंग्रेजी अखबार में छपी खबर के अनुसार सुमन ने हेल्‍पलाइन ‘वनीता सहायवनी’ की मदद से इस राज का पर्दाफाश किया। सुमन और उसका पति अक्षय शर्मा दोनों पेशे से इंजीनियर हैं और उन्होंने 2013 में शादी की थी। प्रेग्‍नेंट होने से पहले सुमन के जीवन में सब कुछ ठीक ठीक था। लेकिन उसके बाद अचानक पति का देर रात घर आना सुमन को खटकने लगा। वो रोज देर से आने के अलग बहाने बनाता। सुमन ने इस बात पर भी गौर किया कि वो देर से आने के बाद नहाता है और पूजा करके ही सोता है, जिसके बाद उसने छानबीन शुरू कर दी।

पत्‍नी से दूर रखता था फोन

Loading...

अक्षय अपनी पत्‍नी सुमन से अपने फोन को दूर रखता था। एक दिन जब वो नहा रहा था तब उसके फोन पर आए वॉट्सऐप मैसेज को सुमन ने पढ़ लिया। मैसेज में एक महिला की फोटो के साथ उसका नंबर भी था। सुमन ने उस नंबर पर फोन किया लेकिन महिला ने फोन काट दिया।

पत्‍नी ने ली जासूस की मदद

अब सुमन ने पति की बेवफाई पकड़ने के लिए एक जासूस की मदद ली, जिसके जरिए उसे पता चला कि अक्षय लगातार एस्कॉर्ट सर्विस ले रहा है।  उसने मैंगलोर तक पति का पीछा किया और उसे एक एस्कॉर्ट के साथ रंगे हाथों पकड़ लिया। सारे सबूत हाथ में आने के बाद सुमन ने अपने पति और इसमें शामिल सभी लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। फिलहाल वनीता सहायवनी के काउंसलर अक्षय की काउंसलिंग कर रहे हैं और उसने अपनी पत्नी को धोखा देने की बात स्वीकार कर ली है।

 

बेहद रोमांचक और आश्चर्यजनक जानकारियों के लिए नीचे फोटो पर क्लिक करें

loading...
Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com