Sunday , 25 August 2019

मंदसौर: एक शख्स बहा भारी बारिश के चलते, स्कूलों में रहेगी छुट्टी शनिवार को…

Loading...

क्षेत्र में तेज बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। यहां नदी- नाले उफान पर हैं। लोग अपने काम से लौटकर घर जाने के प्रयास में अपनी जान जोखिम में डाल रहे हैं। हालात ये हैं कि शहर का आसपास के क्षेत्रों से संपर्क टूट गया है। स्कूली बच्चों को आवाजाही में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में कलेक्टर मनोज पुष्प ने वर्षा को ध्यान में रखते हुए मंदसौर जिले के सभी स्कूलों में 10 अगस्त को शासकीय अवकाश घोषित किया है।

तेज बारिश के कारण दर बाजार में एक कच्चा मकान ढह गया। मकान के नीचे दुकान भी ढह गई।मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार सुबह लगभग 11 बजे सदर बाजार से पशुपतिनाथ मंदिर तरफ जाने वाले व्यस्ततम मार्ग पर एक मकान ढह गया। नीचे दुकान सहित मकान गिर गया। पुलिस मौके पर पहुंच गई है और मलबा हटाने का काम जारी है।

नई आबादी थाना क्षेत्र के ग्राम उदयपुरा में कोलवा सोसाइटी में सेल्समैन के पद पर पदस्थ था। गुरुवार शाम सात बजे मुकेश पिता हरिकिशन मीणा (32) निवासी ग्राम उदपुरा शाम करीब सात बजे ग्राम कोलवा से उचित मूल्य की दुकान बंद कर वापस जा रहा था। नाले का पानी रपट पर होने के बाद भी पार कर रहा था। इसी दौरान बह गया और उसकी मृत्यु हो गई। शुक्रवार सुबह सेल्समेन का शव नाले में ही कुछ दूरी से मिला।

अगस्त को जिले के सभी स्कूलों की कलेक्टर ने की छुट्टी घोषित

तेज बारिश के कारण ग्राम देथली बुजुर्ग में एक पुराने मकान की दीवार भरभराकर गिर पड़ी। रामगोपाल महाजन ने अपने मकान की दीवार गिरने की सूचना पटवारी को दी। हालांकि गनीमत रही दीवार गिरने से कोई जनहानि नहीं हुई।

मंगलवार की मध्य रात्रि से वापस लौटे मानसून ने बुधवार शाम तक जिले के कई हिस्सों को तरबतर कर दिया।मगर गुरुवार और शुक्रवार को बारिश लोगों पर आफत बनकर बरसी। इस दौरान कुछ कच्चे मकान क्षतिग्रस्त हो गए तो कही पेड़ गिर गए।

शिवना नदी में भी पुल पर पानी

थोड़ी-सी बारिश में नदी-नाले उफान पर आ जाने से नाहरगढ़-बिल्लौद, मेलखेड़ा-चंदवासा, दलौदा-सेमलिया हीरा, सीतामऊ आलोट मार्ग बंद रहे। इधर सेमलिया हीरा के पास सोमली नदी का पुल पार करते समय एक मोटरसाइकल नदी में बह गई। इधर चंबल व शिवना नदी में भी पुल पर पानी बहता रहा। जिलेभर में पहले स्थान पर चल रहे गरोठ में बुधवार प्रातः आठ बजे तक 1032.4 मिमी बरसात हो चुकी है।

Loading...

इसके बाद दिन में अलग से रुक-रुककर करीब चार घंटे बारिश हुई है। गत वर्ष अब तक मात्र 347 मिमी ही बरसात दर्ज हुई थी। गरोठ से ढलमू ,चचावदा, ढाबला मोहन को जोड़ने वाली गारियाखेड़ी पुल पर पानी आने से यातायात बाधित हो रहा है। यात्री बसे सहित स्कूल बसें काफी देर तक पुलिया के दोनों छोर पर रुकी रहीं।

ग्राम सेमलिया हीरा के पास सोमली नदी के पुल पर पानी होने से सेमलिया हीरा दलोदा मार्ग बुधवार सुबह से एक बजे तक बंद रहा। पानी पुलिया पर आने पर आने जाने वाले लोगों को परेशानियां हुईं। सुबह स्कूली बच्चों को भी बड़ी परेशानी हुई। दोपहर एक बजे पुलिया पर पानी कम होने के बाद लोग आने-जाने लगे।

ग्राम गुलियाना के प्रभुलाल माली  मोटरसाइकिल से पुलिया पार कर रहे थे, तभी संतुलन बिगड़ने से मोटरसाइकिल सहित पुलिया के नीचे जा गिरे। प्रभुलाल माली को लोगों ने हर निकाल लिया। बाद में लोगों ने जान जोखिम में डालकर रस्सी से मोटरसाइकिल ढूंढने की कोशिश की, पर नहीं मिली। कुछ ही देर में दलौदा थाने के जवान महेंद्रसिंह सेमलिया हीरा पहुंचे। दलौदा थाना के जवान रामकृष्ण नागदा ने बताया कि सोमली नदी उफान पर चल रही इस कारण थाने में ज्यादा जवान नहीं है।

कच्चा मकान ढहा

पिपलियामंडी मेंलगातार हो रही बारिश से गांव सोकड़ी में एक कच्चा मकान ढह गया। घटना के समय घर में कोई नहीं था। मंगलवार व बुधवार की दरमियानी रात हुई जोरदार बारिश से गांव सोकड़ी में श्री राधाकृष्ण मंदिर के पास कुशालसिंह शक्तावत का कच्चा मकान ढह गया। घटना के समय सभी परिजन दूसरी जगह सो रहे थे। कई गांवों का नगरीय क्षेत्रों से संपर्क टूटा

सीतामऊ में मंगलवार-बुधवार की मध्यरात्रि से शुरु ही बारिश का दौर बुधवार को दिनभर चलता रहा। लगातार हो रही बारिश से सभी नदी-नाले उफान पर आने से कई गांवों का नगरीय क्षेत्रों से संपर्क टूट गया है। इससे आम जीवन अस्त-व्यस्त दिखाई दिया। अब तक क्षेत्र में 30 इंच के लगभग बारिश का आंकड़ा पहुंच गया है। सीतामऊ-नीमच तथा सीतामऊ-उज्जैन-नागदा मार्ग की बसे बंद रहने से ग्रामीणों को आवागमन की परेशानियों से जूझना पड़ा।

तेज बहाव बही भैंस की हुई मौत

गरोठ के समीप देथलीखुर्द में खाल में आए तेज बहाव में एक भैंस बह गई। भैंस श्यामलाल पिता नारायण धाकड़ की थी। खाल में कुछ दूरी पर पुलिया के पाइप में फंस जाने से भैंस की मौत हो गई। बाद में चिकित्सक ने भैंस का पीएम किया व पंचनामा बनाया। श्यामलाल ने प्राकृतिक आपदा से भैंस की मृत्यु होने पर आर्थिक सहायता की मांग की है।

बेहद रोमांचक और आश्चर्यजनक जानकारियों के लिए नीचे फोटो पर क्लिक करें

loading...
Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com