Monday , 9 December 2019

बाजार में बुजुर्गों से दोस्ती कर अनोखे तरीके से ज्वैलरी ठगने वाली शातिर महिला गिरफ्तार

Loading...

मुंबई और गुजरात में बुजुर्ग लोगों को अनोखे तरीके से ठगने वाली एक शातिर महिला को मुंबई पुलिस ने गिरफ्तार किया है। महिला बुजुर्गों संग बाजार में दोस्ती करती थी और फिर उन्हें पेंशन योजना का लालच देकर उनसे ज्वैलरी व कीमती सामान ठग लेती थी। मुंबई और गुजरात, दोनों राज्यों की पुलिस उसकी तलाश कर रही थी। मुंबई पुलिस के अनुसार इस शातिर महिला ने 10 से ज्यादा बुजुर्गों को धोखाधड़ी का शिकार बनाया है। उम्मीद है कि इसके पकड़े जाने के बाद कई और मामले सामने आएंगे।

बुजुर्गों संग ठगी के आरोप में गिरफ्तार महिला की पहचान 34 वर्षीय शाहिद के रूप में हुई है। महिला गुजरात के अनानाड की रहने वाली है। मुंबई की वीपी रोड पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया है। महिला के पास से बुजुर्गों द्वारा ठगे गए 11 तोला सोने के आभूषण बरामद हुए हैं। गुजरात क्राइम ब्रांच भी आरोपित महिला को अपनी कस्टडी में लेगी। मुंबई पुलिस के अनुसार, डीबी मार्ग और वीपी रोड थाने में पिछले माह ऐसे चार अलग-अलग मामले दर्ज किये हैं। वहीं कोलाबा, सांताक्रूज थाने में इस तरह के मामले सामने आये हैं।

वरिष्ठ नागरिकों को बनाती थी निशाना

आरोपित महिला, सब्जी मार्केट में बुजुर्ग लोगों की सब्जी चुनने में मदद करती थी। ऐसे धीरे-धीरे उनका विश्वास जीत लेती थी। बाद में इन्हीं बुजुर्ग लोगों को पेंशन योजना दिलवाने की बात करती थी और उन्हें नजदीकीअस्पताल में ले जाती थी। बुजुर्गो पर अपना विश्वास बनाने के लिए वह उन्हें 4-5 हजार रुपये पेंशन के नाम पर दे देती थी और उन्हें गरीब दिखाकर पेंशन दिलवाने के नाम पर उनके गहने उतरा लेती थी और उसके बाद उनके गहने लेकर भाग जाती थी।

ऐसे पकड़ी गयी शातिर

Loading...

इस बारे में डीबी मार्ग पर रहने वाली हंसा खुशीलाल मेहता (75) ने शिकायत दर्ज करवायी है। हंसा मेहता ने बताया कि उस महिला से उनकी मुलाकात दूध खरीदते समय बाजार में हुई थी। आरोपित महिला ने पहले उनका पीछा किया और उनसे बातचीत कर उन्हें नायर अस्पताल की पेंशन योजना के बारे में बताने लगी। बाद में इस आरोपित महिला ने टैक्सी किराये पर ली और बुजुर्ग महिला को नायर अस्पताल ले गयी और महिला को एक फॉर्म भरने के लिए कहा और लाइन में बैठने को कहा।

हंसा मेहता को अपने सोने के गहने और एक लाख रुपये का मोबाइल निकालने के लिए कहा। मेहता ने देखा कि वार्ड में न तो मरीज थे और न ही ग्राहक इसी बीच वो शातिर महिला सारी ज्वैलरी और मोबाइल लेकर भाग गयी।

गिरगांव निवासी एक अन्य शिकायतकर्ता कोकिला वासानी (73) के साथ 5 तोला सोने के आभूषण और 2 लाख रुपये के मोबाइल फोन के साथ भी धोखाधड़ी की गई। उन्हें भी पेंशन योजना के लिए ऑफर किया गया था और लूट लिया गया था। वीपी रोड पुलिस ने हाल ही में इसी तरह की घटना के तीन अलग-अलग मामले दर्ज किए हैं।

कैसे पकड़े गए आरोपी?

घटना के बाद आरोपित आनंद जिले के डागाजीपुर गांव में भाग गयी। आरोपित ने शिकायतकर्ता सीम वासनी मोबाइल फोन का इस्तेमाल कर और अपने पति फिरोज को फोन किया था। पुलिस ने गुजरात में जाल बिछाया और आरोपित का जंगल क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया आरोपित केपास से 11 तोला सोने के आभूषण भी जब्त कर लिये गये हैं।

बेहद रोमांचक और आश्चर्यजनक जानकारियों के लिए नीचे फोटो पर क्लिक करें

loading...
Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com