Tuesday , 27 October 2020

पेट्रोल डालकर जिंदा जलाया: फॉर्म हाउस के बाहर

Loading...

bouazizi2.jpeg.size_.xxlarge.letterboxएजेंसी/कानपुर। बिधनू थानाक्षेत्र में घटी सनसनी खेज वारदात ने इलाकाई लोंगो के रोंगटे खड़े कर दिए| एक युवक को फॉर्म हाउस के बाहर पेट्रोल डालकर जिंदा जलाया गया और उसकी इलाज के दौरान दर्दनाक मौत हो गयी। मरने से पहले युवक ने पुलिस को बताया की उसको सेक्योरिटी एजेंसी के मालिक व नौकर ने जिंदा जलाया  है। ये दर्दनाक घटना है बिधनू थानाक्षेत्र की कुरियाँ चौकी इलाके के बघारा गॉव की जहां पर नरेंद्र यादव (30) पुत्र श्याम सुंदर को बघारा गांव स्थित काकादेव निवासी प्रशांत सिंह के फार्म हाउस के बाहर जिंदा जलाया गया। घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने नरेंद्र को आनन-फानन एम्बुलेंस से कानपुर भिजवाया जहां पर उसने इलाज के दौरान मजिस्ट्रेटी बयान के पहले ही दम तोड़ दिया। उधर बिधनू पुलिस की पूछताछ में नरेंद्र ने फार्महाउस व सेक्योरिटी एजेंसी मालिक प्रशांत सिंह वउसके नौकर उदयभान पर पेट्रोल डालकर जिंदा जलाने का आरोप लगाया है। उधर सुचना के बाद एसपी ग्रामीण मौके पर पहुंच गये और घटना स्थल का निरिक्षण करते हुए फार्म हाउस के नौकर को हिरासत में लिया है।

3 साल से है नरेंद्र व प्रशांत की हुई थी जान पहचान

तकरीबन 3 साल से प्रशांत व नरेंद्र के बीच जान पहचान है। प्रशांत एक राइनो नाम की सेक्योरिटी एजेंसी का संचालक है और नरेंद्र प्रशांत की कम्पनी में काम करता था तकरीबन 2 साल पहले नरेंद्र ने प्रशांत की नौकरी छोड़ दी। करीब 6 माह पूर्व ही नरेंद्र ने प्रशांत के पास फिर से नौकरी मांगने आया तो प्रशांत ने उसे अपनी फर्म की एजेंसी का एक ऑफिस रामदेवी में खुलवा दिया। जिसमे प्रशांत व् नरेंद्र में एक डील हुई।

10000 रूपये प्रति व्यक्ति जमा होती थी धनराशी

रामदेवी में सेक्योरिटी एजेंसी खुलने के बाद प्रशांत ने नरेंद्र को प्रति व्यक्ति 10000 रूपये बतौर सेक्योरिटी धनराशी के रूप में जमा करवाने की बात कहीं और उसमे दोनों के बीच 50 – 50 प्रतिशत बाटने की बात हुई थी |

कल 8:30 तक प्रशांत के साथ था नरेंद्र

फार्म हाउस के नौकर उदयभान के अनुसार वो बाँदा जिले का रहने वाला है और बीते दो माह पूर्व ही वो अपने परिवार समेत फार्म हाउस में नौकरी करने के लिए आया था। उदयभान ने बताया की नरेंद्र कल अपनी बाइक से 4 बजे के करीब फार्म हाउस आया था और मालिक भी तब फार्म हाउस में थे। करीब 8:30 बजे के बाद मालिक अपने घर चले गये और नरेंद्र भी बाइक लेकर चला गया। रात के करीब 10 बजे नरेंद्र नशे में आया और गेट खोलने के लिए आवाज देने लगा लेकिन मेरी पत्नी ने दरवाजा नहीं खोला और उसने अपनी बाइक से पेट्रोल निकालकर आग लगा ली |

Loading...

प्रशांत ने किया नरेंद्र की पत्नी को फोन

मालिक प्रशांत ने नरेंद्र की पत्नी को फोन पर सूचना दी और उसकी पत्नी ने अपने फौजी जेठ को घटना के बारे में बताया तो तुरंत ही पुलिस के साथ ही घटनास्थल पर पहुंच गये। इस दौरान नरेंद्र कम्बल से लिपटा हुआ था और अपने भाई को देखकर अपनी साथ हुई घटना के बारे में बताये जा रहा था |

पुलिस के पहुंचने पर बंद मिला फॉर्म हाउस का दरवाजा

जब इलाकाई पुलिस घटनास्थल पर पहुंची तो फार्म हाउस का दरवाजा बंद था। पुलिस ने काफी देर तक दरवाजा पीटा तब कहीं जाकर नौकर उदयभान की पत्नी ने दरवाजा खोला। सीओ घाटमपुर ने मामले को लेकर बताया की जाँच की जा रही है फार्म हाउस के मालिक व नौकर को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

बेहद रोमांचक और आश्चर्यजनक जानकारियों के लिए नीचे फोटो पर क्लिक करें

loading...
Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com