Wednesday , 23 September 2020

दिल्ली में भारी बारिश में भी मिंटो ब्रिज के नीचे अब क्यों नहीं होगा जलभराव,

Loading...

दिल्ली के मिंटो ब्रिज के नीचे जलभराव निपटने के इंतजाम कर दिए गए हैं। यही वजह है कि बृहस्पतिवार को हुई झमाझम बारिश होने के बाद भी  मिंटो ब्रिज के नीचे पानी नहीं भरा और न ही जाम लगने की नौबत आई। दरअसल, लोक निर्माण विभाग (Public Works Department) ने जुलाई में बरसात से हुए जलभराव के चलते यहां पर न केवल कर्मियों की संख्या बढ़ा दी है, बल्कि सीसीटीवी कैमरों के माध्यम से निगरानी को लागू कर दिया है। गौरतलब है कि जुलाई में मिंटो ब्रिज के नीचे बारिश के कारण जलभराव हो गया था। इसमें डूबने से एक व्यक्ति की मौत हो गई थी।

पीडब्ल्यूडी के एक अधिकारी के अनुसार यहां पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं जिनकी लाइव फुटेज मुख्यालय तक के अधिकारियों के पास होती है। वाइफाइ तकनीक से लैस इन कैमरों में सात दिन तक की फुटेज भी सुरक्षित रखी जा सकती है। इसके साथ ही जलभराव न हो, इसके लिए यहां पर मोबाइल एप के माध्यम से पंप को जोड़ा गया है। यहां पर तैनात कर्मी कही से भी पंप को चालू कर सकते हैं। इसके साथ ही जलभराव होने की स्थिति में यहां पर लगा हूटर भी बजने लग जाएगा।

Loading...

अधिकारियों के मुताबिक, 15 सेंटीमीटर से ज्यादा पानी भरने पर यहां से यातायात प्रतिबंधित कर दिया जाएगा। इसके बाद भी अगर कोई यहां से गुजरने की कोशिश करेगा तो उसके खिलाफ एफआइआर भी दर्ज कराई जाएगी। अधिकारी ने बताया कि इस व्यवस्था की निगरानी बढ़ाने के बाद बृहस्पतिवार को सकारात्मक परिणाम मिले हैं। अगर जरूरत पड़ी तो और भी तकनीकी संसाधनों का प्रयोग किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि हर वर्ष तेज बरसात होने पर दिल्ली में जलभराव के साथ ही सबकी नजर मिंटो ब्रिज पर होती है, क्योंकि दो दशकों से भी ज्यादा समय पर जलभराव के कारण बसों के डूबने की घटनाएं होती रहती हैं।

 

बेहद रोमांचक और आश्चर्यजनक जानकारियों के लिए नीचे फोटो पर क्लिक करें

loading...
Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com