Saturday , 24 October 2020

गुजरात के बाद दिल्ली में हाई अलर्ट

Loading...

105582-security-700नई दिल्ली/अहमदाबाद : देश के महत्वपूर्ण ठिकानों पर हमला करने के उद्देश्य से पाकिस्तान से 10 संदिग्ध आतंकवादियों के पश्चिमी राज्य गुजरात में प्रवेश करने की खुफिया रिपोर्ट आने के बाद केन्द्रीय सुरक्षा एजेंसियों ने गुजरात और दिल्ली सहित सभी मेट्रो शहरों में अलर्ट जारी किया है। खुफिया एजेंसियों ने दिल्ली में लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद के संदिग्ध आतंकवादियों के घुसने का संदेह जताया है। वहीं, पूरे गुजरात में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई और सभी पुलिसकर्मियों की छुट्टी रद्द कर दी गयी है। दिल्ली से करीब 200 जवानों वाली दो एनएसजी टीमों को अहमदाबाद भेजा गया है।

 

खुफिया एजेंसियों ने दिल्ली में लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद के संदिग्ध आतंकवादियों के घुसने का संदेह जताया है।

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक सुरक्षा अधिकारियों ने दिल्ली पुलिस को जानकारी दी है कि गुजरात के रास्ते भारत में घुसपैठ करने वाले 10 संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकवादी हो सकता है कि राष्ट्रीय राजधानी में दाखिल हो चुके हों।  

खुफिया एजेंसियों ने आशंका जताते हुए चेतावनी जारी है कि संदिग्ध आतंकवादी बाजारों एवं शॉपिंग मॉल्स को निशाना  बना सकते हैं। मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक दिल्ली पुलिस को भीड़-भाड़ वाले इलाकों एवं सुरक्षा प्रतिष्ठानों की सुरक्षा बढ़ाने के लिए कहा गया है।  

 अधिकारिक सूत्रों ने बताया कि समुद्र के रास्ते गुजरात में आतंकवादियों के प्रवेश करने के बारे में खुफिया सूचना मिलने के बाद सभी महत्वपूर्ण ठिकानों, संवेदनशील औद्योगिक स्थलों और धार्मिक जगहों पर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी करने की सलाह जारी की गयी है।

कच्छ में छापेमारी, एनएसजी गुजरात रवाना

अधिकारियों सहित सभी पुलिसकर्मियों की छुट्टी रद्द कर दी गयी है और सोमवार को होने वाले ‘महा शिवरात्रि’ के लिए राज्य में सभी प्रमुख मंदिरों में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गये हैं। पुलिस सूत्रों ने बताया कि आज तड़के पाकिस्तान की सीमा से लगे कच्छ जिले में भुज तालुक के वरनोरा गांव में दक्षिण कच्छ के पुलिस अधीक्षक मकरंद चौहान की अगुवाई में एक पुलिस टीम ने एक सघन सुरक्षा और छापेमारी अभियान शुरू किया।

उन्होंने बताया कि कच्छ पुलिस ने भुज के नूरानी महल होटल और मुस्लिम जमात खाना में भी छापेमारी की है। गुजरात के गृह राज्यमंत्री रजनी पटेल ने बताया, ‘राज्य सरकार को कल केन्द्र सरकार से गुजरात में आतंकवादियों के प्रवेश करने के बारे में एक गंभीर सूचना मिली। हमने एक बैठक की जिसमें यह सुनिश्चित करने के लिए कि कोई अप्रिय घटना नहीं हो सभी एहतियात बरतने पर चर्चा की गयी।’ 

Loading...

कल ‘महा शिवरात्रि’ है और राज्य सरकार ने सभी मुख्य मंदिरों में भी सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी है। पटेल ने बताया, ‘महा शिवरात्रि के दौरान विशेषकर लाखों श्रद्धालु जूनागढ़, सोमनाथ और अन्य मंदिरों में जाते हैं। ऐसे में हमने इन मंदिरों के लिए भी सुरक्षा के हाई अलर्ट जारी किये हैं।’ अधिकारिक सूत्रों ने बताया कि किसी भी स्थिति से निपटने के लिए दिल्ली से करीब 200 जवानों वाली दो राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) टीमों को गुजरात रवाना किया गया है।

आज तड़के से पुलिसकर्मियों को राजमार्गों पर गश्त लगाते हुये देखा जा रहा है। सभी वायु सेना और सेना के ठिकानों पर भी सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गयी है। उन्होंने बताया, ‘केन्द्र ने सभी मदद का प्रस्ताव दिया है और एनएसजी टास्क फोर्स यहां पहुंच गयी है जिन्हें इस समय विभिन्न (महत्वपूर्ण और संवेदनशील) स्थानों के बारे में जानकारी दी जा रही है।

उन्होंने कहा, ‘हमने सुरक्षा को चुस्त-दुरूस्त करने के लिए तटीय सुरक्षा को अलर्ट करने के साथ साथ कच्छ के निकट सीमा पुलिस को भी सभी आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिए हैं। कच्छ में, हमने स्थानीय पुलिस को सीमा सुरक्षा बल :बीएसएफ: के साथ सहयोग बनाए रखने को कहा है।’ पटेल ने बताया, ‘अभी तक, हमें कोई संदिग्ध व्यक्ति नहीं मिला है। हालांकि, जो कुछ भी सूचना हमें मिली है वह गंभीर है और हम इसको लेकर सभी आवश्यक कदम उठा रहे हैं।’’ 
कल देर रात सभी पुलिसकर्मियों की छुट्टी निरस्त करने वाले राज्य के पुलिस महानिदेशक ने बताया कि वह किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं। 

ठाकुर ने कहा, ‘हम हाई अलर्ट पर हैं और किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं। हमने विभिन्न स्थानों पर तलाशी अभियान शुरू किया है। हम उन स्थानों को भी संवेदनशील मान रहे हैं जहां पर बहुतायात में लोग आते-जाते हैं।’ उन्होंने कहा, ‘हम सभी सावधानियां बरत रहे हैं। सभी तटीय इलाकों और अन्य महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों की सुरक्षा बढ़ा दी गयी है। अगर जरूरत हुयी तो एनएसजी टीमों को उनके प्रोटोकॉल के तहत तैनात किया जाएगा।’ 

गुजरात में आतंकवादियों की संभावित घुसपैठ के बारे में भारतीय अधिकारियों को पाकिस्तान से अलर्ट मिलने के दावों की खबरों पर राज्य के पुलिस महानिदेशक (आईबी एंड सीआईडी) प्रमोद कुमार ने बताया कि राज्य खुफिया ब्यूरो को केन्द्रीय आईबी से सूचना मिली है।

कुमार ने बताया, ‘हमें, पाकिस्तान से यह सूचना मुहैया कराये जाने के बारे में कोई जानकारी नहीं है। हमें इस बारे में केन्द्रीय आईबी से सूचना मिली है। मैं इससे ज्यादा नहीं जानता हूं।’ रेलवे स्टेशनों और हवाई अड्डों पर कड़ी निगरानी की जा रही है।

गौरतलब है कि शुक्रवार को भारत-पाकिस्तान सीमा से लगे कच्छ के समुद्र तटीय कोटेश्वर क्रीक इलाके में सुरक्षाकर्मियों द्वारा देखे जाने के बाद मछली पकड़ने वाली एक नौका में सवार लोग भाग गये थे जिसके बाद बीएसएफ के एक गश्ती दल ने एक खाली पाकिस्तानी नौका जब्त कर ली थी। बीएसएफ अधिकारियों ने बताया था कि नौका में कुछ भी संदिग्ध वस्तु नहीं मिली।

बेहद रोमांचक और आश्चर्यजनक जानकारियों के लिए नीचे फोटो पर क्लिक करें

loading...
Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com