Friday , 22 November 2019

गणित शिक्षक के 600 पद रह गए खाली…

Loading...

लोक सेवा आयोग ने शनिवार को सहायक अध्यापक प्रशिक्षित स्नातक (एलटी ग्रेड शिक्षक) भर्ती 2018 के गणित विषय का परिणाम घोषित कर दिया। 15 अक्तूबर को घोषित इस भर्ती के विज्ञान शिक्षक के परिणाम की तरह गणित का परिणाम भी चौंकाने वाला है।

पुरुष और महिला शाखा को मिलाकर गणित के 1035 एलटी ग्रेड शिक्षकों का चयन किया जाना था। लेकिन इनमें से मात्र 435 पदों के लिए ही चयन हो सका। शेष 600 पद योग्य अभ्यर्थी न मिलने के कारण खाली रह गए। स्पष्ट है कि सिर्फ 42 प्रतिशत पदों पर ही चयन हो सका है। 58 प्रतिशत पद खाली रह गए हैं।

आयोग ने इस भर्ती की लिखित परीक्षा में न्यूनतम अर्हता अंक की बाध्यता रखी है। 150 अंकों की लिखित परीक्षा में एससी और एसटी अभ्यर्थियों के लिए न्यूनतम 30 प्रतिशत और सामान्य तथा ओबीसी अभ्यर्थियों के लिए न्यूनतम 40 प्रतिशत अंक पाना अनिवार्य है। विज्ञापन में लिखा गया है कि इससे कम अंक पाने वाले अभ्यर्थियों को श्रेष्ठता/चयन सूची में शामिल नहीं किया जाएगा। 

अरविन्द और प्रिंसी को पहला स्थान-
आयोग ने महिला और पुरुष वर्ग का अलग-अलग परिणाम वेबसाइट पर अपलोड किया है। पुरुष वर्ष में अरविन्द सिंह वरीयता क्रम में पहले, स्वतंत्र कुमार त्रिपाठी दूसरे और लीलाधर सिंह तीसरे स्थान पर हैं जबकि महिला वर्ग में प्रिंसी सिंह को पहला, शोभा प्रजापति को दूसरा और प्रतीक्षा गौर को तीसरा स्थान मिला है।

Loading...

गणित के शिक्षकों की भी रहेगी कमी-
आयोग ने एलटी शिक्षकों के 15 विषयों के 10768 पदों के लिए लिखित परीक्षा पिछले वर्ष 29 जुलाई को आयोजित की थी। एक साल तीन माह बाद गणित का परिणाम घोषित किया गया। खास बात यह है कि इसके बाद भी राजकीय इंटर कॉलेजों में गणित शिक्षकों की कमी बनी ही रहेगी। जो पद भरे नहीं जाते हैं, उन्हें आयोग शासन को वापस भेजता है। शासन स्तर से दुबारा भर्ती के लिए पद भेजे जाते हैं तो फिर नए सिरे से भर्ती प्रक्रिया शुरू की जाती है। इससे स्पष्ट है कि इन 600 रिक्त पदों के लिए दुबारा चयन होने में अभी वक्त लगेगा।

10 विषयों के परिणाम हुए घोषित-
एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती 2018 में शामिल 15 विषयों के 10768 पदों में से अब तक 10 विषयों के 3893 पदों का परिणाम घोषित किया जा चुका है। आयोग ने गणित के 435 अभ्यर्थियों को औपबंधिक तौर पर सफल किया है। यानी की इन्हें आयोग द्वारा वांछित अभिलेखों का सत्यापन कराना होगा।

सत्यापन में सबकुछ सही पाए जाने पर ही अंतिम तौर पर चयनित माना जाएगा। इस भर्ती के बाकी विषयों के परिणाम की तरह इस विषय का परिणाम भी हाईकोर्ट में दाखिल याचिकाओं के अंतिम निर्णय के अधीन रहेगा। सचिव ने बताया कि प्राप्तांक और श्रेणीवार कटऑफ अंक यथासमय आयोग की वेबसाइट पर अपलोड कर दिया जाएगा।

बेहद रोमांचक और आश्चर्यजनक जानकारियों के लिए नीचे फोटो पर क्लिक करें

loading...
Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com