Wednesday , 30 September 2020

आदित्य हत्याकांड:JDU की फरार MLC मनोरमा ने कोर्ट में किया सरेंडर

Loading...

manorama_devi_surrender_court_17_05_2016पटना। गया के आदित्य हत्याकांड के मुख्य अभियुक्त रॉकी यादव की मां और जदयू से निलंबित, फरार चल रही विधान पार्षद मनोरमा देवी ने मंगलवार सुबह सात बजकर दस मिनट पर सीजीएम कोर्ट में सरेंडर कर दिया। उन पर अवैध शराब रखने का आरोप है। रोड रेज केस में मनोरमा के पति बिंदी यादव और बेटा रॉकी यादव पहले ही गिरफ्तार किए जा चुके हैं।

पुलिस और मीडिया की नजरों से बचती हुई मनोरमा अचानक सीजीएम चार की कोर्ट पहुंच गईं। कोर्ट में सरेंडर के बाद मनोरमा देवी मीडिया से मुखातिब हुईं और सवालिया लहजे में पूछा कि क्या मैं शराब पीती हूं? मैंने आजतक शराब को हाथ तक नहीं लगाया है।

उन्होंने कहा कि यह सारा खेल भाजपा का किया धरा है। भाजपा पुलिस के साथ मिलकर मुझे इस केस में जबर्दस्ती फंसा रही है। मनोरमा ने कहा कि मेरे घर में शराब नहीं थी, मुझे राजनीतिक साजिश के तहत फंसाया गया है।

गिरफ्तारी के बाद मनोरमा देवी के वकील ने कहा कि उनकी तबियत ठीक नहीं है इसीलिए उन्हें डॉक्टर की निगरानी में रखा जाएगा।

मनोरमा के सरेंडर के बाद उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। पुलिस ने 11 मई को मनोरमा के घर उनके बेटे रॉकी यादव की तलाश के सिलसिले में छापा मारा था। छापे के दौरान पुलिस को मनोरमा के घर से महंगी विदेशी शराब की कई बॉटल्स मिली थीं। बिहार में शराब बैन है। इसलिए उनपर अवैध शराब रखने के जुर्म में केस दर्ज किया गया था।

चाइल्ड एक्ट लेबर एक्ट के तहत भी केस दर्ज

इसके अलावा उन पर चाइल्ड लेबर एक्ट के तहत भी केस दर्ज किया गया है। उनके घर से एक बच्चे को छुड़ाया गया था। आरोप है कि मनोरमा देवी ने इस बच्चे को जबरदस्ती नौकर के तौर पर रखा था।

कोर्ट ने सुनवाई से कर दिया था इंकार

इससे पहले सोमवार को गया के जिला और सत्र न्यायालय में मनारेमा देवी की अग्रिम जमानत याचिका पर सुनवाई हुई थी और कोर्ट ने उनकी जमानत याचिका पर सुनवाई करने से इंकार करते हुए पुलिस से केस डायरी की मांग की थी। अदालत ने मनोरमा देवी की अग्रिम जमानत की याचिका पर सुनवाई टाल दी और उनकी गिरफ्तारी पर रोक लगाने से इंकार कर दिया। केस डायरी पेश होने के बाद अब मनोरमा देवी की अग्रिम याचिका पर सुनवाई 19 मई को तय की गई थी।

कोर्ट ने पुलिस से केस डायरी पेश करने को कहा

कोर्ट ने मनोरमा देवी की अर्जी पर सुनवाई टालते हुए पुलिस को केस डायरी पेश करने का निर्देश दिया है। मनोरमा देवी ने शुक्रवार को गया की अदालत में अग्रिम जमानत के लिए याचिका दायर की थी। जिला प्रशासन ने पहले ही उनके तीन हथियारों के लाइसेंस को रद्द कर दिया था।

मनोरमा के घर से बरामद हुई थी विदेशी शराब

रॉकी की गिरफ्तारी के लिए एमएलसी के घर हुई छापेमारी में विदेशी शराब बरामद हुई थी। रामपुर थाने में दर्ज इस मामले में अदालत ने एमएलसी की गिरफ्तारी के लिए वारंट जारी किया था। बिहार में 5 अप्रैल से शराबबंदी है। पुलिस ने मनोरमा देवी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी तेज कर दी थी।

Loading...

पुलिस ने मनोरमा को गिरफ्तार करने के लिए तेज की छापेमारी

गया की एसएसपी गरिमा मलिक के मुताबिक, एमएलसी की गिरफ्तारी के लिए गया जिले के बाराचट्टी और मनोहरपुर के कई ठिकानों पर छापेमारी की गई थी। उनके घर से शराब बरामदगी मामले में शुक्रवार की शाम एपी़ कॉलोनी स्थित उनके घर पर इश्तेहार चिपकाया गया था। इसके अलावा शहरी इलाके में दो तथा बोधगया, बाराचट्टी और मोहनपुर इलाके में मनोरमा दवी के नाम अचल संपत्ति पर भी इश्तेहार चिपकाया गया है।

झारखंड में छुपे होने की थी आशंका

वहीं फरार चल रही मनोरमा देवी के झारखंड में छिपे होने की संभावना जताई जा रही थी। पुलिस ने मुख्य आरोपी रॉकी यादव की मां की तलाश में कुख्यात कल्लू सिंह के झारखंड के चतरा जिले के हंटरगंज स्थित घर पर दबिश दी। हालांकि, न मनोरमा देवी मिली और ना कल्लू।

गवाहों की कड़ी सुरक्षा

गया पुलिस ने आदित्य सचदेव हत्याकांड के चारों चश्मदीद गवाहों की सुरक्षा के लिए पुलिसकर्मी को प्रतिनियुक्त कर रखा है। अफवाह थी कि आदित्य सचदेवा के साथ 7 मई की रात स्विफ्ट कार पर रहे चार मित्रों को धमकी दी जा रही है, जिस कारण वे सभी गया छोड़ बाहर चले गए हैं।

9 मई को पटना जोन के आइजी नैय्यर हसनैन खान गया आए थे। आइजी ने आदित्य हत्याकांड की समीक्षा कर गया पुलिस को चश्मदीद गवाहों की सुरक्षा को लेकर प्रश्न किया था। मगध क्षेत्र के पुलिस उप महानिरीक्षक सौरभ कुमार ने तभी कहा था कि गया पुलिस को इस संबंध में घटना के दूसरे दिन ही निर्देशित कर दिया गया था।

सभी गवाहों की सुरक्षा में पुलिस तैनात है। वहीं, पीडि़त परिवार को भी सुरक्षा कवर दिया गया है। गवाहों के साथ गया पुलिस का संपर्क बना है।

यह है मामला

गया में 10 मई को मनोरमा का बेटा रॉकी यादव शनिवार रात करीब 11 बजे अपनी नई लैंड रोवर कार से कहीं जा रहा था।एक स्विफ्ट कार उसकी लैंड रोवर के आगे चल रही थी। रॉकी अपनी गाड़ी को उस कार से आगे ले जाने की कोशिश कर रहा था, लेकिन स्विफ्ट कार चला रहा ड्राइवर सामने जगह न होने की वजह से साइड नहीं दे पाया था।

इसके बाद रॉकी ने किसी तरह स्विफ्ट को ओवरटेक करके रोक लिया था। स्विफ्ट कार में बैठे लड़कों और रॉकी के बीच बहस हुई थी। रॉकी ने गोली चला दी। इसमें आदित्य सचदेव नाम के लड़के की मौत हो गई। आदित्य के पिता गया के बड़े पाइप कारोबारी हैं।

रॉकी फरार हो गया था। पुलिस ने उसके पिता बिंदी यादव को बेटे को भागने में मदद करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया था। कुछ दिनों पहले रॉकी को भी गिरफ्तार कर लिया गया।

बेहद रोमांचक और आश्चर्यजनक जानकारियों के लिए नीचे फोटो पर क्लिक करें

loading...
Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com