Friday , 25 June 2021

10 में से 9 लोग एटीएम का इस्तेमाल पैसे निकालने के लिए करते हैं, खरीदारी के लिए नहीं

Loading...
 नोटबंदी के फैसले के बाद से सरकार देश को पूरी तरह से डिजिटल पेमेंट के प्रोत्साहित कर रही है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) से मिले आंकडों के अनुसार भारत में लोग अपने डेबिट कार्ड का इस्तेमाल सिर्फ पैसे निकलवाने के लिए करते हैं।14_12_2016-pos

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के डेटा के मुताबिक अक्टूबर 2016 में 10 में से 9 लोग डेबिट कार्ड का इस्तेमाल केवल एटीएम से पैसे निकालने के लिए करते हैं। देश में कुल 94.2 करोड़ डेबिट कार्ड हैं। डेबिट कार्ड के जरिए अक्टूबर महीने में 2.63 लाख करोड़ रुपयों का लेन देन हुआ है। कुल 8 फीसदी मामले ऐसे थे जिसमें डेबिट कार्ड का इस्तेमाल पीओएस (प्वाइंट ऑफ सेल) मशीन पर वस्तु एवं सेवाएं खरीदने के लिए किया गया है।

लगभग 50 फीसदी डेबिट कार्ड का इस्तेमाल लगातार किया गया है लेकिन 6 से 8 फीसदी ही वस्तु एवं सेवाएं खरीदने के लिए किया जाता है। देश में एटीएम की कुल संख्या 2.20 लाख हैं, वहीं पीओएस मशीन टर्मिनल 15.12 लाख हैं।

भारत में क्रेडिट कार्ड की संख्या 8.95 करोड़ है, जो कि डेबिट कार्ड की तुलना में काफी कम हैं। लेकिन पीओएस पर क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल ज्यादा होता है। अक्टूबर महीने में पीओएस से कुल 29,866 करोड़ रुपए का कारोबार हुआ है। मास्टरकार्ड के सीनियर बिजनेस लीडर अमिताभ तिवारी का कहना है कि अगर लोग पीओएस का ज्यादा इस्तेमाल करना शुरू कर देंगे तो एटीएम पर उनकी निर्भरता अपने आप ही कम हो जाएगी।

Loading...

लोगों को पैसे की निकासी के साथ-साथ कार्ड का इस्तेमाल अन्य सामान खरीदने के लिए भी करना चाहिए। तिवारी ने बताया कि सरकार का लक्ष्य मार्च तक 10 लाख पीओएस मशीनें और लगाने का है। आंकडों की बात करें तो भारत में करीब 80 लाख करोड़ रुपए लोग सालाना अपने ऊपर खर्च करते हैं उनमें से महज 5 फीसदी पैसा कार्ड से निकाला जाता है।

 

 

बेहद रोमांचक और आश्चर्यजनक जानकारियों के लिए नीचे फोटो पर क्लिक करें

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com