Sunday , 25 August 2019

हर के प्रमुख शिव मंदिरों में दर्शन-पूजन के लिए भक्तों की भीड़ भोर पहर से उमड़ती रही…

Loading...

सावन के अंतिम सोमवार को शहर के शिव मंदिरों में प्रभु भोले नाथ के जयकारों की गूंज रही। देर रात से ही मंदिरों के बाहर श्रद्धालुओं की एक से दो किलोमीटर लंबी-लंबी कतारें लगी रहीं। हर कोई बाबा भोले नाथ के दर्शन करने को आतुर रहा। शहर के प्रमुख मंदिरों में शुमार बाबा आनंदेश्वर मंदिर, सिद्धनाथ मंदिर व वनखंडेश्वर मंदिर व जागेश्वर धाम व नागेश्वर धाम में रात 12 बजे से ही भक्तों का हुजूम उमड़ा।

भगवान शिव के अति प्रिय श्रावण मास के अंतिम सोमवार को मंदिरों में भक्तों ने गंगा जल से बाबा का जलाभिषेक किया। वैदिक मंत्रोच्चार के बीच दूध, दही, शहद, घृत, चंदन, भांग, बेल पत्र से बाबा अभिषेक किया। मंदिरों में ‘हर हर महादेव शंभु काशी विश्वनाथ गंगे और  नम: शिवाय की गूंज सुनाई देती रही।

Loading...

आनंदेश्वर बाबा का भक्तों ने किया गंगाजल से अभिषेक 
आनंदेश्वर मंदिर में देर रात से लगी लंबी लाइन सुबह होते-होते ग्रीनपार्क स्टेडियम के दस नंबर गेट के पार पहुंच गई। दो किमी से अधिक लंबी कतारों में लगे भक्तों ने हर-हर महादेव का उद्घोष करते रहे। श्रद्धालुओं ने गंगा जल लेकर भोले बाबा को जल अर्पित किया।
पुलिस-प्रशासन ने किए व्यवस्था के इतंजाम 
शहर के प्रमुख शिव मंदिरों में पुलिस व प्रशासन की ओर से सुरक्षा व्यवस्था के कड़े इतंजाम किए गए। मंदिर में महिला व पुरुष बल की तैनाती रही। मंदिरों में सीसीटीवी कैमरों से संदिग्ध व्यक्तियों पर नजर रखीं गई।
भक्तों में दिखा गजब का उत्साह 
मंदिरों में श्रावण मास के अंतिम सोमवार को दर्शन करने के लिए महिला व पुरुष के साथ बच्चे में बड़ी संख्या में आए। शिवालयों में हर उम्र के श्रद्धालुओं ने बाबा के दर्शन कर सुख-समृद्धि की कामना की।

दर्शन के लिए महिलाओं के लिए विशेष व्यवस्था 
शहर के प्रमुख शिवालयों में बाबा के दर्शन करने के लिए उमड़े भक्तों के हुजूम में महिला, पुरुष, बुजुर्ग व बच्चों ने उत्साह के साथ बाबा के जयकारों के बीच दर्शन कर सुख-समृद्धि की कामना की। मंदिरों में भीड़ को देखते हुए प्रशासन ने अलग से उनके लिए दर्शन व लाइन की व्यवस्था की। ताकि महिलाओं को दर्शन के लिए परेशान न होना पड़े। प्रशासन की पहल से महिला श्रद्धालुओं ने खुशी जाहिर की।

बेहद रोमांचक और आश्चर्यजनक जानकारियों के लिए नीचे फोटो पर क्लिक करें

loading...
Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com