Monday , 14 October 2019

विडियो वाइरल: सरेआम जिंदा जलाया तीन छोटे-छोटे बच्चों की मां को…

Loading...

जिले के रानीगंज थाना क्षेत्र के बेलगच्छी गांव में भीड़ के क्रूर चेहरे का वीडियो वायरल हो रहा है। बच्चे की चोरी कर हत्या किए जाने के शक में आक्रोशित भीड़ ने महिला को पहले खंभे से बांधकर पीटा और फिर तेल छिड़ककर जिंदा जला दिया।

मानवता को शर्मसार करने वाले इस वायरल वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि कैसे लोग एक महिला को घर से खींचकर निकालते हैं और फिर उसे खंभे से बांधकर निर्ममतापूर्वक पीटते हैं और इससे भी मन नहीं भरता है तो उसे सरेआम जिंदा जला देते हैं। मृतक महिला के तीन छोटे-छोटे बच्चे हैं जिनसे मां का साया छिन गया है।

घटना मंगलवार की है। भीड़ में ही शामिल किसी शख्स ने पूरी घटना का वीडियो बना लिया और अब उसे सोशल मीडिया पर अपलोड कर दिया है, जो तेजी से वायरल हो रहा है। भीड़ में शामिल कई महिलाएं-पुरुष में से कोई उसे पीट रहा है तो कोई उसे वहीं जला देने की बात कर रहा है। वीडियो में यह भी स्पष्ट है कि कैसे सबूत मिटाने के लिए महिला को सरेआम जलाकर राख किया जा रहा है।

बिहार में फिर नज़र आया भीड़ का क्रूर चेहरा, बच्चा चोरी के आरोप में महिला की पहले खंभे में बांधकर पीटा, फिर तेल छिड़ककर सरेआम ज़िंदा जला दिया। अब 4 लोग गिरफ्तार किए गए हैं….

Loading...

बिहार में फिर नज़र आया भीड़ का क्रूर चेहरा, बच्चा चोरी के आरोप में महिला की पहले खंभे में बांधकर पीटा, फिर तेल छिड़ककर सरेआम ज़िंदा जला दिया। अब 4 लोग गिरफ्तार किए गए हैं….

घटना के बारे में बताया जा रहा है कि गांव के सुबोध चौहान का नौ माह का बेटा, प्रभात घर से गायब हो गया था जिसके बाद बच्चे के परिजन रात भर उसकी खोजबीन करते रहे। लेकिन बच्चे का कहीं पता नहीं चल सका, जिसके बाद मंगलवार की सुबह सुबोध चौहान के घर से कुछ ही दूरी पर एक पुआल के ढेर में बच्चे का शव बरामद हुआ।

शव बरामद होने के बाद बच्चे के परिजन आक्रोशित हो गए और बच्चे की चोरी और हत्या करने के आरोप में गांव के ही संजीत चौहान की पत्नी सजनी देवी को उसके घर से खींचकर पास के तालाब के किनारे ले गए और खंभे से बांधकर जमकर पिटायी की। उसके बाद भीड़ ने महिला को सरेआम तेल छिड़ककर जिंदा जला दिया और देखते-ही-देखते महिला राख का ढेर बन गई। 

सजनी देवी का पति, संजीत चौहान मुम्बई में मजदूरी करता है। महिला के तीन छोटे-छोटे बच्चे हैं जिनसे भीड़ ने शक की वजह से मां का साया छीन लिया है। महिला के तीनों बच्चों को गांव के ही चौकीदार के घर पर रखा गया है। इस घटना के बाद पूरे गांव में कोहराम मचा हुआ है।  

घटना के बाद पूरे गांव में तनाव का माहौल है। गांव में पुलिस की टीम कैम्प कर रही है। अररिया के एसडीपीओ कुमार देवेन्द्र सिंह ने बताया कि अब तक इस संबंध में चार आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है। वहीं इस मामले में 14 नामजद 25 अज्ञात पर प्राथमिकी दर्ज की गई है।

बेहद रोमांचक और आश्चर्यजनक जानकारियों के लिए नीचे फोटो पर क्लिक करें

loading...
Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com