Tuesday , 22 June 2021

रविवि को मिली ए ग्रेड, अब 50 करोड़ अधिक मिलेगा फंड

Loading...

ravishankar_shukla_university_a_grade_20161217_112928_17_12_2016पंडित रविशंकर शुक्ल विवि ने ए ग्रेड हासिल कर लिया है। नैक (नेशनल एक्रेडिटेशन एंड एसेसमेंट काउंसिल) की टीम ने 27 से 30 नवम्बर तक विवि में विजिट कर यहां की कमियों और खूबियों को देखा था। उसकी रिपोर्ट शुक्रवार को जारी की गई। इसमें रविवि को 3.02 सीजीपीए हासिल हुआ है, जो इससे पहले 2.61 था।

सीजीपीए बढ़ने से स्टूडेंट्स की डिग्री का वैल्यू और विवि का ग्रांट वैल्यू भी बढ़ गया है। यूजीसी समेत कई नेशनल फंड एजेंसीज से अब विवि को 50 करोड़ स्र्पए अधिक फंड मिल सकेगा। अभी हर साल 12 करोड़ रुपए का फंड मिलता है। कई ऐसे प्रोजेक्ट्स प्रोफेसर्स को मिलेंगे, जिनके लिए विवि अभी तक पात्र नहीं था।

इससे पहले भी विवि ने नेशनल रैंकिंग फ्रेमवर्क में 46वां स्थान हासिल किया था। पहले विवि की ग्रेड बी थी। नैक की रिपोर्ट से विवि में खुशी की लहर है। दर्सल इंफ्रास्ट्रक्चर, भवन, आईसीटी, डिजिटलाइजेशन समेत ऑनलाइन मॉनिटरिंग, अटेंडेंस, लैंग्वेज क्लब आदि विकसित होने के बाद यह राज्य में दूसरा ए ग्रेड विश्वविद्यालय बन गया। अभी तक राज्य के 20 विश्वविद्यालयों में सिर्फ इंदिरा कला संगीत विवि को ही ए ग्रेड हासिल है। इसका सीजीपीए 3.11है।

इंस्टिट्यूट ऑफ बिलासपुर को भी ए ग्रेड

नैक ने इंस्टिट्यूट ऑफ एडवांस स्टडीज इन एजुकेशन बिलासपुर को भी ए ग्रेड दिया है। इसे 3.04 सीजीपीए हासिल हुआ है। गवर्नमेंट कॉलेज भैस्मा कोरबा को 2.05 सीजीपीए के साथ बी ग्रेड हासिल हुई है। राज्य के 500 कॉलेजों में अभी तक सवा सौ कॉलेजों ने ही ग्रेडिंग कराई है। इनमें चार को ए ग्रेड, 70 कॉलेजों को बी ग्रेड और 80 कॉलेजों को सी ग्रेड मिली है।

Loading...

अब राज्य में ए ग्रेड के सात संस्थान

राज्य में अब ए ग्रेड वाले 7 संस्थान हो गए हैं। इनमें दो विश्वविद्यालय, एक इंस्टिट्यूट और चार कॉलेज- गवर्नमेंट ई राघवेद्र राव पोस्ट गे्रजुएट साइंस कॉलेज (ऑटोनॉमस) बिलासपुर, सीएमडी कॉलेज बिलासपुर, बिलासा कन्या स्नातकोत्तर कॉलेज बिलासपुर और विश्वनाथ यादव तामस्कर पीजी कॉलेज (साइंस कॉलेज) दुर्ग शामिल हैं। एक इंस्टिट्यूट शामिल हैं।

 

बेहद रोमांचक और आश्चर्यजनक जानकारियों के लिए नीचे फोटो पर क्लिक करें

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com