Tuesday , 27 October 2020

बड़ी खबर: एच-1B जॉब्स के लिए ट्रेनिंग पर इतने करोड़ डॉलर खर्च करेगा अमेरिका

Loading...
अमेरिका ने अहम क्षेत्रों में मीडियम से हाई स्किल वाली (Skilled) एच-1बी नौकरियों (H1-B Jobs) के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू करने की घोषणा की है. अमेरिका ने कहा है कि वह इस प्रशिक्षण कार्यक्रम पर 15 करोड़ डॉलर खर्च किया जाएगा. इसमें सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र (IT Sector) भी शामिल हैं, जिसमें हजारों की संख्या में भारतीय पेशेवर काम करते हैं. बता दें कि एच-1बी गैर-आव्रजक वीजा होता है.

हर साल हजारों भारतीयों की नियुक्ति करती हैं अमेरिकी कंपनियां
एच1-बी वीजा के तहत अमेरिकी कंपनियों को विशेष तकनीकी दक्षता वाले पदों पर विदेशी प्रोफेशनल्‍स को नियुक्त करने की अनुमति होती है. इस वीजा के जरिये प्रौद्योगिकी क्षेत्र की कंपनियां हर साल भारत जैसे देशों से हजारों कर्मचारियों की नियुक्ति करती हैं. अमेरिका के श्रम विभाग ने कहा कि मुख्य रूप से सूचना प्रौद्योगिकी, साइबर सुरक्षा (Cyber Security), आधुनिक विनिर्माण (Manufacturing), परिवहन (Transportation) जैसे क्षेत्रों में एच-1बी श्रमबल अनुदान कार्यक्रम का इस्तेमाल किया जाएगा.

Loading...

नई पीढ़ी के कर्मचरियों को भी कार्यक्रम के तहत दी जाएगी ट्रेनिंग

ऑनलाइन प्रशिक्षण के तहत दी जाएगी आवश्‍यक स्किल की ट्रेनिंग
विभाग ने कहा कि इस अनुदान के लिए आवेदन करने वालों को Innovative training strategies के जरिये कर्मचारियों को प्रशिक्षण देना होगा. इनमें ऑनलाइन और दूसरे टेक्‍नोलॉजी आधारित प्रशिक्षण (Online Training) शामिल हैं. स्थानीय पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप (PPP) के तहत आवेदकों को अपने समुदायों के बीच कर्मचारियों को जरूरी स्किल की ट्रेनिंग देनी होगी. इससे अहम क्षेत्रों में एच-1बी वाले पदों के लिए मध्यम से उच्च कौशल वाले कर्मचारी उपलब्ध होंगे.

बेहद रोमांचक और आश्चर्यजनक जानकारियों के लिए नीचे फोटो पर क्लिक करें

loading...
Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com