Sunday , 27 September 2020

बारहवीं के बाद ये हैं बेहतर विकल्प

Loading...

बारहवीं उत्तीर्ण करने के बाद आप जिस क्षेत्र में अध्ययन करते हैं उसी क्षेत्र में आपके कॅरियर का निर्माण होता है। ऐसे में विकल्पों का चुनाव सावधानीपूर्वक करें।

l_12th-pass-after-1465300411बारहवीं उत्तीर्ण करने के बाद आप जिस क्षेत्र में अध्ययन करते हैं उसी क्षेत्र में आपके कॅरियर का निर्माण होता है। ऐसे में विकल्पों का चुनाव सावधानीपूर्वक करें। चुनाव के समय कॅरियर में भविष्य,  रुचि और अपनी योग्यता व क्षमता को अवश्य ध्यान में रखें। कॅरियर मुख्य तीन क्षेत्रों में होते हैं- निजी क्षेत्र, सरकारी क्षेत्र या स्वयं का कोई व्यापार या संस्थान शुरू करना। विधि सलाहकार

12वीं के बाद पांच वर्षीय लॉ इंटिग्रेटेड कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं। कॉमन लॉ एडमिशन टैस्ट (क्लैट) की तैयारी कर सकते हैं। इसके बाद सरकारी व निजी क्षेत्रों में खूब मौके मिलते हैं। कम्पनियों में विधि सलाहकार भी बन सकते हैं। 

 स्पोट्र्स कोच

मौजूदा समय में खेलकूद भी अच्छा विकल्प है। बैचलर ऑफ  फिजिकल एजुकेशन के बाद एमपीएड (मास्टर ऑफ फिजिकल एजुकेशन) कर किसी भी संस्थान में कोच बन सकते हैं। 

 मैनेजर या गाइड

प्रबंधन के क्षेत्र में बीबीए, डिप्लोमा इन होटल मैनेजमेंट एंड कैटरिंग, डिप्लोमा इन टूरिज्म मैंनेजमेंट आदि कोर्स कर सकते हैं। चीनी (मंदारिन), रशियन, जर्मन और फ्रेंच आदि भाषाएं सीखकर गाइड बन अच्छा पैसा कमा सकते हैं। 

  इंजीनियरिंग

पॉलीटेक्निक (इंजीनियरिंग डिप्लोमा) से  मेकैनिकल, इलेक्ट्रिकल और सिविल जैसे परंपरागत कोर्स कर विद्युत और रेलवे आदि विभागों में जा सकते हैं। गणित से उत्तीर्ण छात्र रेलवे में तकनीकी एवं इंजीनियरिंग क्षेत्र में जा सकते हैं। सेना में एनडीए, सीडीएस परीक्षा भी दे सकते हैं। बीएससी में छात्र बायो टेक्नोलॉजी, जेनेटिक्स, कम्प्यूटर, इलेक्ट्रॉनिक्स आदि ले सकते हैं। 

  सिविल सेवा परीक्षा

Loading...

सिविल सर्विसेज एवं राज्य प्रशासनिक सेवाओं में कॅरियर शुरू करने के लिए ग्रेजुएट होना आवश्यक है। अगर छात्र 12वीं बाद से ही तैयारी शुरू कर दें तो परिणाम अच्छे आने की उम्मीद बढ़ जाती है। इसके लिए अर्थशास्त्र, इतिहास, राजनीति शास्त्र, भूगोल आदि विषय स्नातक में चुनें। इसका लाभ मिलेगा। इसके अलावा रेलवे, बैंंक, कर्मचारी चयन आयोग की प्रतियोगी परीक्षाओं में भी शामिल हो सकते हैं।

पत्रकारिता में भविष्य

पत्रकारिता उभरता हुआ क्षेत्र है। 12वीं कक्षा के बाद बैचलर ऑफ  जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन कर सकते हैं। प्रिंट मीडिया में भाषा और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में आवाज का महत्त्व होता है। इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में बतौर कैमरामैन भी कॅरियर अच्छा है। 

अन्य क्षेत्र

रेलवे, बैंक, बीमा, मैनेजमेंट आदि क्षेत्रों में नियमित भर्ती प्रक्रिया चलती रहती है। 12वीं पास अभ्यर्थी इसमें शामिल हो सकते हैं। इनमें सामान्य गणित, रीजनिंग, मैंटल एबिलिटी के प्रश्न पूछे जाते हैं। रुचि के अनुसार परीक्षा का चयन करें। परीक्षा से पहले पैटर्न समझें। सामान्य अध्ययन के लिए 8वीं से 12वीं तक एनसीईआरटी की पुस्तकें पढ़ें। 

परीक्षा की तैयारी

मॉडल टैस्ट पेपर हल करें। कमजोर हिस्से पर अधिक मेहनत करें। परीक्षा में सरल लगने वाले प्रश्न पहले हल कर लें। नेगेटिव मार्किंग होने पर शंका वाले प्रश्न छोड़ दें। 

सतर्क रहें   

विवि या संस्थानों में दाखिले से पहले उसकी मान्यता और कैंपस सेलेक्शन के बारे में जरूर पता कर लें। 

बेहद रोमांचक और आश्चर्यजनक जानकारियों के लिए नीचे फोटो पर क्लिक करें

loading...
Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com