Monday , 20 May 2019

पुरानी मान्यताओं के अनुसार जूते चप्प्ल का चोरी होना एक शुभ संकेत हैं…

क्या कभी आपके जूते या चप्पल किसी मंदिर से गायब या चोरी हुए हैं ? सामान्यतः किसी भी वस्तु की चोरी से हमें कुछ आर्थिक नुकसान होता है साथ ही प्रिय वस्तु जाने से कुछ दुःख भी अवश्य होता है किन्तु पुरानी मान्यताओं के अनुसार जूते चप्प्ल का चोरी होना एक शुभ संकेत है विशेष रूप से यदि यह घटना मंदिर में घटे तो और भी अच्छा है और यदि संयोग से उस दिन शनिवार हो तो बहुत ही उत्तम रहता है।
#ऐसा माना जाता है की पैरों में शनि ग्रह का प्रभाव रहता है ऐसे में यदि शनि की साढ़ेसाती या ढैय्या चल रही हो तो शनि ग्रह के दुष्प्रभाव और भी बढ़ जाते हैं तब ज्योतिष किसी मंदिर में या जरूरतमंद व्यक्ति को अपनी पहनी  हुयी या नयी चप्पल या जूते दान करने की सलाह भी देते हैं।

#क्योंकि शनि का प्रभुत्व पैरों में रहता है अतः चप्पल या जूते शनिवार के दिन मंदिर में दान देने से या चोरी हो जाने से शनि द्वारा होने वाले कष्टों और अन्य बुरे प्रभावों से मुक्ति मिलती है

#अतः मंदिर में जूते चप्पल चोरी होने पर दुःखी नहीं बल्कि खुश हो जाए क्योंकि यह एक शुभ संकेत है जो बताता है की आपके जीवन में शनि द्वारा आने वाली बाधाएं अब कम हो जाएँगी।

loading...
Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com