Wednesday , 22 May 2019

पिछले साल 2018 में 12वीं में विश्वेंद्र और दीक्षा ने किया था टॉप, इतने प्रतिशत रहा था परीक्षा परिणाम

राजस्थान बोर्ड ने आज 12वीं कक्षा के साइंस और कॉमर्स के छात्रों के परिणाम बुधवार को घोषित कर दिए हैं। पिछले साल की तरह इस बार भी लड़कियों का परीक्षा परिणाम प्रतिशत ने लड़कों मुकाबले अच्छा रहा है। साइंस में लड़कों का पास प्रतिशत- 93.86 फीसदी और लड़कियों का पास प्रतिशत- 96.05 फीसदी रहा है। वहीं कॉमर्स में लड़कों का पास प्रतिशत- 90.13 फीसदी जबकि लड़कियों का पास प्रतिशत- 95.67 फीसदी रहा है। 

 

 

कॉमर्स में 37858 छात्र पास हुए और 1696 की सप्लीमेंट्री है जबकि साइंस में 236643 पास हुए और 4689 की सप्लीमेंट्री आई है।  साइंस के रेग्यूलर छात्रों का परीक्षा परिणाम 94.54 प्रतिशत जबकि प्राइवेट छात्रों का 36.71 प्रतिशत रहा। कॉमर्स के रेग्यूलर छात्रों का परीक्षा परिमाण 92.06 प्रतिशत रहा वहीं प्राइवेट छात्रों का 44.72 प्रतिशत रहा है।

इस साल राजस्थान में 12 वीं की परीक्षा 7 मार्च से 2 अप्रैल के बीच आयोजित की गई थी। 2019 में 15 मई को नतीजे घोषित किए गए हैं जबकि पिछले साल 23 मई को रिजल्ट घोषित किया गया था। 2018 में साइंस का परीक्षा परिणाम 86.6 प्रतिशत रहा जिनमें से लड़कियों का प्रतिशत 90.33 रहा और लड़कों का रिजल्ट 85.08 प्रतिशत रहा था। वहीं कॉमर्स में भी लड़कियों का ही पलड़ा भारी रहा था। टोटल 91.09 प्रतिशत परीक्षा परिणाम में से लड़कियों का रिजल्ट 95.42% रहा जबकि 89.23% प्रतिशत लड़के पास हुए थे। 

2018 में 12वीं के करीब 3 लाख छात्रों ने परीक्षा दी थी जबकि 2019 में 10 लाख छात्र रिजल्ट के इंतेजार में हैं। पिछले साल कॉमर्स में दीक्षा अग्रवाल और साइंस में विश्वेंद्र सिंह ने टॉप किया था।   

2018 में विश्वेंद्र ने 99.4 प्रतिशत अंक प्राप्त किए थे वहीं 98.6 प्रतिशत अंकों के साथ हरीश कुमार और 98 प्रतिशत अंकों के साथ कुनाल कुमावत साइंस स्ट्रीम में टॉप थ्री में रहे थे।  

वहीं पिछले साल कॉमर्स में दीक्षा अग्रवाल, रोनक सगतनी और लविशा नागदा टॉप थ्री में रहे थे। दीक्षा अग्रवाल 97.6 प्रतिशत अंकों के साथ पहले, रोनक सगतनी 96.4 प्रतिशत अंकों के साथ दूसरे और लविशा नागदा 95.8 प्रतिशत मार्क्स के साथ तीसरे नंबर पर रहे थे।

loading...
Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com