Monday , 30 November 2020

दिशा की बैठक में उठा बैराज-मंधना रोड पर अवैध प्लाटिंग पर प्रशासन को दिए जांच के आदेश

Loading...

जिला विकास समन्वय और निगरानी समिति (दिशा) के अध्यक्ष सांसद अशोक रावत ने गंगा बैराज के पास अवैध तरीके से प्लाटिंग के मुद्​दे पर प्रशासन को जांच कराने के आदेश दिए। इसपर बैठक में एसआइटी से जांच करने की सहमति के बाद डीएम औपचारिक संस्तुति कर दी है। अब पूरे प्रकरण की जांच एसआइटी करेगी और डीएम जल्द ही जांच अधिकारियों को नामित करेंगे। समित के अध्यक्ष ने कहा है कि जांच रिपोर्ट जल्द से जल्द दी जाए ताकि कार्रवाई सुनिश्चित कराई जा सके। विकास भवन में आयोजित दिशा की बैठक में महापौर और सांसदों ने भी कई मुद्​दों पर अपनी बात रखी।

विकास भवन में जिला विकास समन्वय और निगरानी समिति की बैठक का आयोजन हो रहा है। गंगा बैराज, मंधना के आसपास अवैध तरीके से प्लाटिंग का मुद्दा उठते हुए कमेटी अध्यक्ष सांसद अशोक रावत ने कहा कि बिल्डरों ने ग्राम समाज, तालाब और चकरोड की भूमि पर कब्जा करके प्लाटिंग कर दी है। जिलाधिकारी प्रकरण में कमेटी गठित करके जांच कराएं और रिपोर्ट दें। इसपर समित के सदस्यों ने एसआइटी से जांच कराने की सहमति दी, जिसपर डीएम ने भी संस्तुति कर दी। डीएम अब एसआइटी के लिए जांच अधिकारी नामित करेंगे। एसआइटी जांच करने के बाद रिपोर्ट सौंपेगी, जिसमें दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी। महापौर प्रमिला पांडेय ने तालाब, सरकारी भूमि पर कब्जा करके प्लाटिंग और आसपस हो रहे कब्जों का मुद्दा उठाया।

बैठक में सीडीओ डॉ. महेंद्र कुमार ने कहा कि राष्टीय आजीविका मिशन के तहत स्वयं सहायता समूहों के लोगों को मनरेगा के तहत कार्य दिए जाएंगे। सांसद सत्यदेव पचौरी ने कहा कि समूह के लोगों को विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना, पीएम रोजगार सृजन योजना के तहत लाभान्वित करें और उन्हें सिलाई मशीनें दी जाएं। एमएलसी अरुण पाठक ने पीएम कौशल विकास योजना में मिले रोजगार का ब्योरा मांगा। सांसद अशोक रावत ने कहा कि यदि इसकी निगरानी नहीं हो रही है तो फिर मनमानी हो रही होगी।

पीएम ग्राम सड़क योजना पर सांसद देवेंद्र सिंह भोले ने सड़कों के चयन के तरीके पर सवाल उठाया। उन्होंने कहा कि सांसद की स्वीकृति के पहले ही शासन को सूची कैसे दी जा रही है, यह तरीका बदलें। अधिशाषी अभियंता के अनुपस्थिति पर विभागीय कार्रवाई का आदेश कमेटी अध्यक्ष अशोक रावत ने दिया। बैठक में डीएम आलोक कुमार, नगर आयुक्त अक्षय त्रिपाठी, विधायक भगवती सागर उपस्थित रहे।

Loading...

बैठक में नगर आयुक्त अक्षय त्रिपाठी ने कहा कि वाटर प्लस के तहत बिनगवा के ट्रीटमेंट प्लांट का शोधित पानी पनकी पावर प्लांट को दिया जाएगा। यह पानी बिजली उत्पादन के काम आएगा। बाईपास और कालपी रोड पर पड़े मलबे को लेकर सांसद सत्यदेव पचौरी ने नाराजगी जताई। उन्होंने कहा कि मलबा डालने वालों पर जुर्माना करें। नगर आयुक्त ने कहा कि पीएसी तीन माह के लिए मिलेगी तब जानवरों को शहर के अंदर से हटवाने में आसानी होगी। पचौरी ने कहा कि गैस पाइप का काम जल्द पूरा किया जाए और शक्कर मिल खलवा में तत्काल पानी पहुंचाया जाए। अधिशासी अभियंता ने कहा कि पाइपों के रिंग सूख गए हैं, इसलिए पाइप लीकेज है। पचौरी ने कहा कि 61 करोड़ रुपए नए कनेक्शन के लिए मांगें, रोड कटिंग के नाम पर नहीं।

बैठक में सांसद देवेंद्र सिंह भोले ने कहा कि जब तक लोग सोकर उठें, उससे पहले सड़कों का कूड़ा उठ जाए ताकि शहर साफ दिखें। भोले ने कहा कि मोतीझील में पर्यटन विभाग काम कर रहा है और आडिटोरियम जल्द पूरा कराया जाए। गवर्निंग कमेटी में सांसद को शामिल किया जाए। घाटमपुर पावर प्लांट को पानी की उपलब्धता समय से कराना सुनिश्चित किया जाए। इसके लिए पाइप लाइन का काम तेजी से कराया जाए। जेएनएनयूआरएम में टंकी बनी खड़ी है और पाइप लीकेज है। 164 करोड़ की परियोजना अभी तक नहीं भेजी गई, इसपर अधिशासी अभियंता जल निगम ने कहा प्रोजेक्ट आज ही भेजा जाएगा। भगवती सागर ने कहा कि गांवों में बन रहे सामुदायिक शौचालयों के ईँट घटिया किस्म की हैं और जबरदस्त अनियमितता की जा रही है।

बेहद रोमांचक और आश्चर्यजनक जानकारियों के लिए नीचे फोटो पर क्लिक करें

loading...
Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com