Friday , 14 August 2020

घोर अन्याय: केदारनाथ धाम में भक्तों को बाबा के दर्शन नहीं हो पा रहे देवस्थानम बोर्ड भक्तों को सिर्फ मंदिर परिसर में ही जाने दे रहा

Loading...

देश में चल रहे कोरोना वायरस के कारण सिर्फ उत्तराखंड के लोगों के लिये ही केदारनाथ यात्रा खोली गई है. भक्त बड़ी संख्या में बाबा केदार के दर्शनों के लिये धाम पहुंच रहे हैं.

केदारनाथ धाम पहुंचने के लिये भक्तों को 18 किमी की दुर्गम पैदल यात्रा करनी पड़ रही है. हालांकि बाबा के द्वार पहुंच रहे हैं भक्तों को निराशा हाथ लग रही है.

केदारनाथ धाम जाकर भी भक्तों को बाबा के दर्शन नहीं हो पा रहे हैं क्योंकि देवस्थानम बोर्ड भक्तों को सिर्फ मंदिर परिसर तक जाने की अनुमति दे रहा है.

मंदिर के सभामंडप और गर्भगृह जाने पर रोक है जबकि बाबा का त्रिकोणीय आकार वाला लिंग मंदिर के गर्भगृह में विराजमान है. ऐसे में भक्तों के अलावा केदारनाथ धाम के तीर्थ पुरोहितों ने भी इसका विरोध किया है.

केदारनाथ धाम पहुंच रहे भक्तों का कहना है कि वह 18 किमी की दुर्गम यात्रा करके केदारनाथ धाम पहुंच रहे हैं, लेकिन यहां उन्हे बाबा के दर्शन नहीं हो पा रहे हैं.

Loading...

भक्तों का कहना है कि भले ही उन्हें लिंग स्पर्श न करने दिया जाए लेकिन दूर से ही सही पर भोले बाबा के दर्शन करन दिया जाए.

वहीं केदारनाथ धाम के तीर्थ पुरोहित अंकित सेमवाल का कहना है कि भक्त देहरादून, रूड़की, पिथौरागढ़ जैसे दूर क्षेत्रों से बाबा के दर्शनों के लिये पहुंच रहे हैं, लेकिन मंदिर के अंदर जाने पर रोक है.

दर्शन न होने से भक्तों में निराशा है. पुरोहित का कहना है कि सरकार को सिर्फ सभामंडप से बाबा के दर्शन करने की अनुमति देनी चाहिये, जिससे यहां पहुंच रहे भक्तों की निराशा दूर हो सके.

 

बेहद रोमांचक और आश्चर्यजनक जानकारियों के लिए नीचे फोटो पर क्लिक करें

loading...
Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com