Saturday , 16 February 2019

किसी जमाने में सहयोगी रहे चंद्रबाबू नायूड पर चुन-चुनकर निशाना, PM मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातें

लोकसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर दक्षिण भारत के मिशन पर निकले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आंध्र प्रदेश के गुंटूर से विपक्ष पर जमकर निशाना साधा. पीएम मोदी ने कभी राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) के सहयोगी रहे तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) के प्रमुख और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू पर राज्य को अपने स्वार्थ के लिए बांटने वाली कांग्रेस के समक्ष समर्पण करने का आरोप लगाया. प्रधानमंत्री मोदी की इस जनसभा के विरोध गुंटूर में जगह-जगह पोस्टर लगे थे, तो वहीं टीडीपी कार्यकर्ताओं ने विरोध स्वरूप काले गुब्बारे उड़ाए.

केंद्र की भारतीय जनता सरकार को रोकने के लिए विपक्षी दलों के महागठबंधन को भी पीएम मोदी ने आड़े हाथों लिया. लेकिन उनके निशाने पर मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ज्यादा रहे. आइए आपको बताते हैं पीएम मोदी के भाषण की वो बड़ी बातें जो उन्होंने गुंटूर की सभा में कहीं.

– चंद्रबाबू नायडू पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा कि जब एनटी रामा राव की विरासत संभाल रहे नेता अपनी कमियों को छिपाने के लिए दूसरों पर आरोप लगाने की राजनीति करने लगें, तो समझ लेना चाहिए कहीं ना कहीं कुछ गड़बड़ है.

– पीएम ने कहा जब कोई मुख्यमंत्री सत्य के बजाय लगातार असत्य ही बोले तो साफ है कि उसकी जमीन खिसक चुकी है, उन्हें एहसास हो गया है कि जनता का भरोसा उन पर से उठ चुका है.

– उन्होंने कहा कि आज गुंटूर से मैं झूठ के बहुत बड़े अभियान पर विराम लगाना चाहता हूं. केंद्र सरकार ने आंध्र प्रदेश के विकास के लिए बीते 55 महीने में कोई कमी नहीं छोड़ी. कमी रही तो इतनी की केंद्र से जो पैसा आया उसे यहां की सरकार ने आपको नहीं बताया, उस पैसे का सही इस्तेमाल नहीं किया.

– पीएम ने कहा कि हमने आंध्र प्रदेश के लिए एक नया स्पेशल असिस्टेंस पैकेज बनाया. जिसका आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री ने स्वागत करते हुए वित्त मंत्री को धन्यवाद भी दिया. विधानसभा में भी इस निर्णय की सराहना की गई. लेकिन इस पैकेज का सही इस्तेमाल कर पाने में नाकाम, राज्य का विकास कर पाने में नाकाम टीडीपी ने यू-टर्न ले लिया.

-पीएम मोदी ने आंध्र विभाजन के नाराजगी को और हवा देने की भी कोशिश की. उन्होंने कहा कि जब आंध्र प्रदेश का बंटवारा हुआ, तो केंद्र में कांग्रेस की सरकार थी. वही कांग्रेस, जिसने इस बंटवारे में आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के लोगों का हित नहीं, अपना स्वार्थ देखा आज उसी कांग्रेस के सामने चंद्रबाबू नायडू जी ने समर्पण कर दिया.

-पीएम ने कहा जिस तेलुगु देशम पार्टी का जन्म आंध्र को कांग्रेस मुक्त करने के लिए हुआ था, उसके नेता को कांग्रेस मुक्त भारत की तरफ बढ़ना चाहिए था, नामदारों के घमंड को चूर-चूर करना था, वो आज उन्हीं नामदारों के नतमस्तक हो गए हैं

-पीएम ने अपने भाषण में चंद्रबाबू नायडू के बेटे का जिक्र करते हुए कहा कि अपने सिद्धांतों से ‘एन लोकेश’ के पिताजी इसलिए भटक गए हैं क्योंकि वो सच्चाई का सामना नहीं करना चाहते. मैं आज उनका सच आपको बताना चाहता हूं: पहला सच- चुनाव में बुरी तरह हार का डर, दूसरा सच- अपने बेटे को राजनीति में स्थापित करने की कोशिश, तीसरा सच- अपनी वेल्थ का क्रिएशन और चौथा सच- जो इस समय आपसे बात कर रहा है, आपका ये चौकीदार. इन चारों सच्चाइयों से वो डरे हुए हैं.

– मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू के एक बयान का जिक्र करते हुए पीएम ने कहा कि वो कहते हैं हमे वेल्थ क्रिएशन नहीं आती. उन्होंने (चंद्रबाबू नायडू) ये भी दावा किया कि उन्हें वेल्थ क्रिएशन आती है. पीएम ने कहा कि वे तमाम तरीकों से वेल्थ ही तो क्रिएट कर रहे हैं, इसलिए चौकीदार से परेशान हैं. उन्होंने कहा हमारा दायित्व अपने लिए वेल्थ क्रिएशन का नहीं, बल्कि देश की वेल्थ का है.

– प्रधानमंत्री ने कहा कि यहां के मुख्यमंत्री को तकलीफ है कि आपका ये चौकीदार, मेरी सरकार उनसे हिसाब मांगती है. आंध्र प्रदेश के विकास के लिए जो राशि दी गई, टैक्सपैयर्स का पैसा आपको दिया गया, उसकी पाई-पाई का हिसाब दीजिए. यही उन्हें अखरता है.

-चंद्रबाबू नायडू के दिल्ली दौरे पर पीएम मोदी ने कहा कि मैंने सुना वो फिर दिल्ली आने की तैयारी कर रहे हैं. मेरा आग्रह होगा, कि दिल्ली आने से पहले, मुझे गालियां देने से पहले, आप आंध्र प्रदेश के लोगों को अपने खर्चों का हिसाब जरूर देकर आएं.

– केंद्र की मोदी सरकार को रोकने के लिए बन रहे विपक्ष के महागठबंधन को पीएम मोदी ने महामिलावट करार दिया. उन्होंने कहा कि महामिलावट का ये क्लब ऐसे लोगों का क्लब है, जहां लगभग हर किसी पर गरीब को, देश को धोखा देने के आरोप में कानून का शिकंजा कस रहा है. उन्होंने कहा महा-मिलावट के जिस क्लब में यहां के मुख्यमंत्री जी शामिल हुए हैं, उसका मकसद सिर्फ अपने स्वार्थ को, अपनी राजनीति के दीए को जलाए रखने का है.

-टीडीपी कार्यकर्ताओं द्वारा विरोध स्वरूप काले गुब्बारे उड़ाने के मामले पर पीएम मोदी ने कहा कि उन्होंने गुब्बारे उड़ा कर मेरी नजर उतार ली.

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com