Monday , 20 May 2019

ऐसे लोगों को कभी नहीं मिलती तरक्की और पैसा, जो कर बैठते हैं जाने-अनजाने ये गलतियां

व्यक्ति के जीवन में पैसे और जीवन में लगातार होने वाली तरक्की का विशेष महत्व होता है। वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में कई बार कुछ ऐसी चीजें होती हैं जिसकी हम अनदेखी कर देते हैं लेकिन यही अनदेखी आर्थिक नुकसान और परेशानी की वजह बन जाती है। घर के भीतर पड़ी कुछ बेकार चीजें जहां नकारात्मकता फैलाती हैं तो वहीं कुछ चीजों को घर में लाने से अशुभ प्रभाव पड़ते हैं। आइए उन 10 चीजों के बारे में जानते हैं, जिनको भूलकर भी घर में नहीं रखना चाहिए।

महाभारत की तस्वीर
घर पर महाभारत से जुड़ी तस्वीरों का होना शुभ नहीं माना जाता है। मान्यता है कि महाभारत की तस्वीर घर में लगाने से कलह उत्पन्न होती है। इसके पीछे तर्क यह है कि महाभारत के युद्ध के पीछे घर की कलह बहुत बड़ा कारण था।

हिंसक जानवर की तस्वीर
घर की दीवारों पर कभी भूलकर भी किसी हिंसक या जंगली जानवर की तस्वीर न लगाएं। खासकर उन तस्वीरों को जिसमें जानवर गुस्से में हो और उसका मुंह खुला हो। दहाड़ लगाते या हमला करते जानवर की फोटो भी न लगाएं।

बची हुई दवाईयां
घर में कभी भी बेकार दवाईयां न रखें। मान्यता है कि बेकार पड़ी दवाईयां रोगों को दावत देती हैं। इसलिए प्रयोग में न आने वाली दवाईयों को जल्दी से जल्दी घर से बाहर कर दें।

टूटी हुई कुर्सी
कुर्सी अर्थात सत्ता और सम्मान। इसलिए यदि आपको अपने सत्ता और सम्मान की जरा सा भी ख्याल है तो आप अपने घर में कभी भी टूटी कुर्सी नहीं रखें। या तो उसकी मरम्मत करा लें या फिर उसे घर से हटा दें। वास्तु शास्त्र के अनुसार कुर्सी मान-सम्मान का प्रतीक होती है।

कांटेदार पौधे का चित्र
कांटेदार पौधे नकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करते हैं। ऐसे में उनकी तस्वीर को घर में लगाने से बचें। सिर्फ तस्वीर ही नहीं बल्कि ऐसे पौधे भी भूलकर घर के भीतर न लगाएं। मान्यता है कि कांटेदार पौधे से परिजनों के बीच सामंजस्य में कमी आती है और आपस में मतभेद पैदा होता है।

खंडित मूर्तियां
वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में कभी भी देवी-देवताओं की खंडित मूर्ति नहीं रखनी चाहिए। घर में पुरानी, खंडित और पूजा में प्रयोग नहीं की जाने वाली मूर्तियों को घर के किसी भी कोने में न रखें और शीघ्र से शीघ्र उसे बाहर कर दें। खंडित मूर्ति की पूजा से न सिर्फ मन भटकता है, बल्कि इससे घर में नकारात्मकता बढ़ती है।

डूबते जहाज या नाव की तस्वीर
वास्तु शास्त्र के मुताबिक डूबते हुए जहाज या नाव की तस्वीर हताशा की प्रतीक होती है। ऐसे में घर में भूलकर भी ऐसी फोटो सजावट के लिए प्रयोग में न लाएं। ऐसी फोटो या पेंटिंग्स से मन में नकारात्मक विचार आते हैं और हताशा पैदा होती है।

खण्डर या वीरान स्थान की पेंटिंग
घर में कभी भी वीरान एवं सूनसान स्थान की पेंटिंग नहीं लगानी चाहिए। भूलकर भी ऐसी पेंटिंग न लगाएं जिसमें पतझड़ आदि हो।

नटराज की मूर्ति
नटराज की मूर्ति अर्थात् तांडव करते भोलेनाथ। सुख-शांति की कामना करने वाले व्यक्ति को कभी घर के भीतर भगवान शिव के इस रौद्र रूप वाली मूर्ति या फोटो नहीं लगानी चाहिए, क्योंकि भगवान भोलेनाथ का तांडव विनाशकारी होता है।

रथ की ऐसी तस्वीर न लगाएं
वास्तु शास्त्र के मुताबिक घर में शंख और रथ की एक साथ वाली तस्वीर को नहीं रखना चाहिए, क्योंकि रथ के साथ शंख युद्ध का प्रतीक माना जाता है। भगवान कृष्ण की रथ पर शंख के साथ जो भी तस्वीर है, वह युद्ध का संकेत देती है। ऐसे में ऐसी तस्वीर को घर में लगाने से बचना चाहिए।

loading...
Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com