Tuesday , 22 June 2021

ऐसे करें अपने लैपटॉप की देखभाल

Loading...

पटॉप का उपयोग आप सभी ने किया ही होगा या फिर कर रहे होंगे। लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि छोटी-छोटी देखभाल के जरिए आप अपने लैपटॉप की लाइफ और सर्विस दोनों को बढ़ा सकते हैं। आइए जानते हैं कि कैसे करना चाहिए लैपटॉप की देखभाललैlaptop-care-tips_15_12_2016

– लैपटॉप के पास कभी भी कोई तरल पदार्थ न रखें। यानी जहां लैपटॉप रखा हो या फिर जहां रखकर आप उसपर काम करते हों वहां कभी भी पानी, कोल्‍डड्रिंक या किसी भी प्रकार का लिक्विड नहीं रखना चाहिए। लिक्विड से लैपटॉप के इंटरनल कंपोनेंट्स खराब हो सकते हैं और आपका डेटा करप्‍ट हो सकता है। यहां तक कि इसकी वजह से कीबोर्ड की बटन्‍स भी खराब हो सकती हैं।

– खाने की चीजें इससे दूर रखें। खाने के टुकड़े या बची हुई जूठन पर कई बार छोटे-मोटे कीड़े लग जाते हैं। अगर ये कीड़े-मकोड़े आपके लैपटॉप में घुस गए तो सर्किट्स को डैमेज कर सकते हैं। इसके अलावा आपका लैपटॉप जूठन लगने से गंदा दिखेगा।

– हमेशा साफ हाथों से लैपटॉप का इस्‍तेमाल करें। तेल लगे या गंदे हाथों से लैपटॉप का इस्‍तेमाल करने से इसकी प्रोटेक्टिव फिनिश खत्‍म हो जाती है। जिसका असर, कीबोर्ड और ट्रैकपैड की फंक्‍शनिंग पर भी पड़ता है।

– पुराने लेकिन साफ टूथब्रश से आप लैपटॉप के बाहरी पार्ट्स को साफ कर सकते हैं। खासतौर पर कीबोर्ड के आसपास, एक्‍जास्‍ट फैन की ग्रिल्‍स, और स्‍क्रीन के आसपास का बेज़ल एरिया। इससे लैपटॉप का एयर फ्लो बना रहेगा और यह अंदर से कम गर्म होगा।

– मॉनीटर स्‍क्रीन को किसी भी प्रकार के डैमेज से हमेशा बचाना चाहिए। इस पर कभी भी पेपर क्लिप्‍स, पेन या पेंसिल नहीं चलाना चाहिए। अपने पेट्स जैसे: डॉगी और बिल्‍ली को भी इससे दूर रखना चाहिए। यदि इस पर क्रैक या स्‍क्रैच आ जाए तो इसका असर आपके काम पर भी पड़ सकता है।

– लैपटॉप को शटडाउन करने के बाद हमेशा स्‍क्रीन के ऊपरी हिस्‍से को उंगलियों के हल्‍के जोर से बंद करना चाहिए। इस क्रिया को क्‍लोजिंग ऑफ लिड भी कहते हैं।

– ज्‍यादा तेजी से या हाथ के पूरे दबाव से बंद करने पर स्‍क्रीन टूट भी सकती है।

– लैपटॉप को हमेशा बेस या निचले हिस्‍से से ही पकड़ना या उठाना चाहिए। कुछ लोग स्‍क्रीन पकड़कर भी लैपटॉप को उठाते हैं, जिससे मॉनीटर स्‍क्रीन पर प्रेशर पड़ता है और यह अपने हिंजेस (जोड़) से अलग होकर निकल सकती है।

Loading...

– लैपटॉप के ऊपर कभी भी कुछ न रखें। वजन का असर सीधे स्‍क्रीन पर पड़ता है और यह बुरी तरह से डैमेज हो सकती है।

– लैपटॉप को ऐसे स्‍थान पर नहीं रखना चाहिए, जहां का तापमान बार-बार बदल रहा हो। बदलते हुए तापमान का असर लैपटॉप के पार्ट्स और सर्किट पर पड़ता है।

– लैपटॉप को कभी भी कार में नहीं छोड़ना चाहिए। बंद कार का आंतरिक तापमान तेजी से बदलता है, जिसका असर लैपटॉप के सर्किट्स पर पड़ता है। ऐसा ही असर लैपटॉप बैग से भी पड़ता है।

– लैपटॉप की पावर कॉर्ड को कभी भी झटके से नहीं खींचना चाहिए। इससे सॉकेट खराब हो सकता है।

– पावर कॉर्ड को हमेशा पावर सप्‍लाई बंद करने के बाद ही निकालना चाहिए।

– अगर आप दो घंटे से ज्‍यादा के लिए लैपटॉप उपयोग नहीं कर रहे हैं तो उसे शटडाउन कर देना चाहिए।

– बैटरी फुल चार्ज होने के बाद लैपटॉप से पावर कॉर्ड को हमेशा निकाल लेना चाहिए। इससे बैटरी की लाइफ बढ़ती है।

 

बेहद रोमांचक और आश्चर्यजनक जानकारियों के लिए नीचे फोटो पर क्लिक करें

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com