Friday , 25 September 2020

आदमियों के चुंबन से भड़का आतंकी, अमेरिका में मचा कत्लेआम

Loading...

us_shooting_13_06_2016एजेंसी/ ऑरलैंडो। अमेरिका में 11 सितंबर 2001 (9/11) के आतंकी हमले के बाद हुए सबसे घातक हमले में रविवार तड़के एक बंदूकधारी ने फ्लोरिडा प्रांत के ऑरलैंडो शहर स्थित एक समलैंगिक नाइट क्लब में घुसकर 50 लोगों की हत्या कर दी। घटना में 53 लोग जख्मी हुए हैं। इस्लामी आतंकी संगठन आईएस ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है। राष्ट्रपति बराक ओबामा ने भी इसे आतंकी हमला करार दिया है।

चुंबन से अमेरिका में मचा कत्लेआम

जानकरी के मुताबिक, क्लब में दो आदमियों को चुंबन करता देख भड़क गया था आतंकी। इसके बाद ही उसने युवकों को बंधक बनाया और अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी।

समाचार एजेंसी अमाक के माध्यम से आईएस ने कहा, हमारे लड़ाके ने अपना काम कर दिया। विस्फोटकों से लदी जैकेट पहने हमलावर ने पहले क्लब में मौजूद 320 लोगों में से करीब 100 को बंधक बनाया। फिर अंधाधुंध फायरिंग की। उसके पास असॉल्ट राइफल, एक हैंडगन तथा कुछ संदिग्ध वस्तु थी।

तीन से चार घंटे चले मौत के तांडव के बाद पुलिस ने उसे मार गिराया। उसकी पहचान 29 वर्षीय अफगानिस्तान मूल के ओमार मतीन के रूप में हुई है। घटना को 9/11 के आतंकी हमले जैसा भीषण हमला बताया जा रहा है। अमेरिकी इतिहास में नरसंहार की भी यह सबसे बड़ी घटना है। राष्ट्र के नाम संदेश में राष्ट्रपति बराक ओबामा ने इसे आतंक और घृणा का काम बताया है।

हमलावर चिल्लाया था 9/11

समाचार एजेंसी एनबीसी ने अपनी वेबसाइट पर ट्वीट किया है कि अफगानिस्तान मूल के अमेरिकी हमलावर उमर मीर सिद्दीकी मतीन ने पहले 911 हमले के बारे में बोला, फिर आतंकी संगठन आईएस और उसके नेता बगदादी के प्रति निष्ठा व्यक्त की और अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी।

पुलिस के मुताबिक, हमलावर तड़के दो बजे पल्स क्लब भवन पहुंचा था। पहले एक सुरक्षा अधिकारी से उसकी झड़प हुई। बाद में वह अंदर घुसा और बंदूक के बल पर क्लब में मौजूद लोगों को बंधक बना लिया। करीब पांच बजे स्वाट टीम बंधकों को छुड़ाने भेजी गई। गोलीबारी शुरू होने के तीन घंटे बाद हमलावर मारा गया। ऑरलैंडो के मेयर बुडी डायर ने 50 लोगों के मरने व 53 के घायल होने की पुष्टि की है।

जश्न खत्म होने वाला था कि…

Loading...

दूसरी तरफ, घटनाक्रम में बचे लोगों ने बताया कि, शनिवार रात को जश्न शुरू हुआ था। संगीत में डूबे सभी लोग हंस-गा रहे थे। दरअसल कुछ दिन पहले ऑरलैंडो में एलजीबीटी (लेस्बियन, गे, बाइसेक्सुअल, ट्रांसजेंडर) समुदाय ने गे दिवस का प्राइड मंथ उत्सव मनाया था। यह गे समूह का अमेरिका का सबसे बड़ा उत्सव होता है।

पल्स नाइट क्लब में इसी का उत्सव मनाया जा रहा था और हमला हो गया। चश्मदीदों के मुताबिक, देर रात दो बजे जब क्लब का समय खत्म होने जा रहा था, उसी वक्त गोलीबारी हुई। इस दौरान सौ से अधिक बार गोलियों की आवाज सुनी गई। क्लबर रिकाडरे नेग्रोन ने बताया कि कैसे बंदूकधारी ने गोलियों से क्लब को दहला दिया।

उसने कहा, ‘लोग फर्श पर लेट गए। वह संभवतः छत पर गोलियां दाग रहा था क्योंकि फर्श पर लैंप के गिरे हुए शीशे दिखाई दे रहे थे।’ पूरे घटनाक्रम पर राष्ट्रपति ओबामा और उपराष्ट्रपति जो बिडेन नजर रखे हुए हैं। फ्लोरिडा में आपातकाल लागू घटना के बाद फ्लोरिडा में आपातकाल लगा दिया गया है। नरसंहार की घटना के बाद ओबामा ने राष्ट्र को संबोधित किया। उनके कार्यकाल में यह 15वीं बार था जब उन्होंने राष्ट्र को संबोधित किया। एफबीआई ने घटना की जांच शुरू कर दी है। फ्लोरिडा गवर्नर ने भी इसे आतंकी घटना बताया है। आतंकी संगठन आईएस ने मतीन की प्रशंसा करते हुए अपने ट्विटर पर उसकी फोटो जारी की है। 24 घंटे में दूसरी घटना शहर में 24 घंटे के बाद ही यह दूसरी गोलीबारी घटना है। इससे पहले शुक्रवार को एक थिएटर में एक बंदूकधारी ने गोली मारकर उभरती गायिका क्रिश्टिना ग्रिमी की हत्या कर दी थी। जिस समय गोली मारी गई, गायिका ने अपना कार्यक्रम खत्म किया था। 2007 के बाद सबसे बड़ा हत्याकांड अमेरिकी इतिहास में इसे 2007 के बाद का सबसे बड़ा हत्याकांड बताया जा रहा है। तब वर्जीनिया टेक यूनिवर्सिटी में 32 लोगों की हत्या कर दी गई थी।

पिता का दावा-इसलिए भड़का था

मतीन मतीन के पिता ने एनबीसी न्यूज से चर्चा में दावा किया, ‘कुछ माह पहले डाउनटाउन मियामी बेसाइड में मतीन ने अपनी पत्नी और बच्चे के सामने दो पुरुषों को आपस में चुंबन करते देखा था, जिससे वह भड़क गया था। तब मतीन बोला था, ‘देखो, मेरे बेटे के सामने यह सब कर रहे हैं।’ जब वह पुरुषों के बाथरूम पहुंचा तो वहां भी उसने यह सब देखा था।’ हर महीने गोलीबारी ऑरलैंडो के क्लब में गोलीबारी की घटना अमेरिका के लिए नई नहीं है। वहां हर महीने बड़ी संख्या में गोलीबारी की घटनाएं होती हैं।

कौन है हमलावर मतीन

हमलावर उमर एस. मतीन 1986 में न्यूयॉर्क में पैदा हुआ था। उसके माता-पिता अफगानी मूल के हैं और वह फ्लोरिडा में पोर्ट सेंट लुईस में रह रहा था। ऑरलैंडो यहां से करीब दो घंटे में पहुंचा जा सकता है। मतीन का तीन साल का एक बेटा है और उसकी पत्नी सितोरा अलीशेरजोदा यूसुफी उज्बेकिस्तान मूल की है।

 
 

बेहद रोमांचक और आश्चर्यजनक जानकारियों के लिए नीचे फोटो पर क्लिक करें

loading...
Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com